Breaking News

उत्तर प्रेदश:- योगी जी की विकास की राहें अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है !
उत्तर प्रेदश:- रंगरलियां मना रहे दो जोड़ो की हुई जमकर पिटाई
देश:- प्रधानमंत्री ने कहा कि सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण विधेयक एक ऐतिहासिक कदम है जो गरीबों के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है
देश:- स्वच्छ भारत मिशन खुले में शौच से मुक्त भारत के लक्ष्य प्राप्ति की ओर
देश:- मेघालय में पहली ‘स्वदेश दर्शन’ परियोजना का उद्घाटन
देश:- रेल संरक्षा में भारत-जापान सहयोग के लिए रेलमंत्रालय ने चर्चा रिकॉर्ड पर हस्‍ताक्षर किये |
Category

बिहार

पटना पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी कीमती गाड़ियों की चोरी करने वाले एक गैंग को पटना पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर चाँदबाड़ी रोड से तीन शातिर चोर को किया गिरफ्तार

By | बिहार, राज्य | No Comments

पटना पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी।

कीमती गाड़ियों की चोरी करने वाले एक गैंग को पटना पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर चाँदबाड़ी रोड से तीन शातिर चोर को किया गिरफ्तार

सनोवर खान के साथ सुजीत कुमार की रिपोर्ट


पटना:कंकड़बाग थाना अध्यक्ष अजय कुमार ने अपने टीम सब इंस्पेक्टर सागैन टोपनो, सब इंस्पेक्टर राजमणि कुमार , सब इंस्पेक्टर प्रवीण कुमार उपाध्याय, PSI रन विजय सिंह एबं PSI सूबेदार पासवान के साथ आलाअधिकारी के गुप्त सूचना के आधार पर कीमती गाड़ियों की चोरी करने वाले एक गैंग को पटना पुलिस ने पकड़ा है. पुलिस ने वाहन चोरों के पास से इनोवा और स्कॉर्पियो समेत चोरी की 7 गाड़ियों को बरामद किया है. पटना पुलिस के हाथ आए इस गैंग में तीन लोग हैं और ये तीनों सगे भाई हैं. गिरफ्तार किए गए तीनों शातिर भाईयों में मनिष, दीपक और दीपू है. ये तीनों मूल रूप से पटना जिले के बाढ़ के रहने वाले हैं. लेकिन काफी समय से ये परिवार के साथ कंकड़बाग थाना के तहत चांदमारी रोड इलाके में किराए के एक मकान में रह रहे थे. इन शातिरों के पिता कंकड़बाग में ही चाय की दुकान चलाते हैं.

दरअसल, इनके कारनामों की जानकारी पटना पुलिस के कप्तान उपेंद्र कुमार शर्मा को हुई थी. इसके बाद सिटी एसपी ईस्ट जितेंद्र कुमार को मिली जानकारी को खंगालने और सही पाए जाने पर शातिरों को पकड़ने को कहा गया. कंकड़बाग के थानेदार अजय कुमार ने अपने स्तर पर जांच की. जांच में पूरा मामला सही जब सही निकला तो थाना की टीम ने चांदमारी रोड में छापेमारी की. तीनों भाईयों को एक साथ पकड़ा. फिर इनके ठिकाने से एक स्कॉर्पियो, एक इनोवा, एक स्वीफ्ट डिजायर, एक टाटा सूमो गोल्ड, दो बुलेट और एक स्पोर्ट्स् बाइक बरामद की गई.

इग्नू की अंतिम परीक्षा बिना विलंब शुल्क सहित फॉर्म भरने की अंतिम तिथि 31 मई से बढ़ाकर 30 जून 2020 तक किया गया। प्रो० डॉ० अनिल सिंह रिपोर्ट:- मो० मिन्नतुल्लाह

By | बिहार, राज्य | No Comments

इग्नू की अंतिम परीक्षा बिना विलंब शुल्क सहित फॉर्म भरने की अंतिम तिथि 31 मई से बढ़ाकर 30 जून 2020 तक किया गया। प्रो० डॉ० अनिल सिंह

रिपोर्ट:- मो० मिन्नतुल्लाह

मोतिहारी/रक्सौल:- इग्नू की जून 2020 का अंतिम परीक्षा के लिए ऐसाइन्मेंट(सौपा गया काम) एवं बिना विलंब शुल्क सहित फॉर्म भरने की अंतिम तिथि 31 मई से बढ़ाकर 30 जून 2020 तक कर दिया गया है। उक्त जानकारी केसीटीसी कॉलेज इग्नू केंद्र के समन्वयक प्रोफेसर डॉ अनिल कुमार सिन्हा ने इग्नू केंद्र की बैठक के बाद दी। प्रो0 सिन्हा ने बताया कि कोरोना रूपी वैश्विक महामारी के प्रकोप के कारण छात्रों की सहूलियत के लिए तिथि को बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। प्रो0 सिन्हा ने बताया कि सभी कार्यक्रमों में पंजीकरण की अंतिम तिथि 30 जून 2020 तक है। जिन विद्यार्थियों ने अपना पंजीकरण नहीं कराया है वह 30 जून 2020 तक करा सकते हैं। इग्नू के सभी कार्यक्रमों में नामांकित विद्यार्थियों से इग्नू का वेबसाइट www.ignou.ac.in खोल कर लगातार देखते रहने का आग्रह किया है, ताकि इग्नू द्वारा विभिन्न विषयों पर चल रहे गुणात्मक शिक्षा का लाभ छात्र उठा सकें। एक जून से होने वाली अंतिम परीक्षा स्थगित कर दी गई है। परीक्षा की तिथि जारी होने से 15 दिन पहले छात्रों को इसकी सूचना उनके मोबाइल पर दे दी जाएगी। बैठक में विद्यार्थियों को होने वाली कठिनाईयों एवं उसके समाधान करने पर विचार विमर्श किया गया। बैठक की अध्यक्षता प्रो0 डॉ0 अनिल कुमार सिन्हा ने की। बैठक में सहायक समन्वयक डॉ0 अनिल कुमार, निशांत सिंह एवं संजीत कुमार उपस्थित थे।

बाढ़ पूर्व कर लें कोविड 19, जेई और चमकी की तैयारी रिपोर्ट: नसीम रब्बानी

By | बिहार, राज्य | No Comments

बाढ़ पूर्व कर लें कोविड 19, जेई और चमकी की तैयारी रिपोर्ट: नसीम रब्बानी


– नाव, ऊंचे स्थान , तटबंधों की सुरक्षा सहित अन्य व्यवस्था को दुरुस्त करने का निर्देश
– प्रमंडल के सभी जिलाधिकारियों के साथ कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग
मुजफ्फरपुर। 2 जून

प्रमंडलीय आयुक्त पंकज कुमार ने मनंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रमंडल के सभी जिलों के जिलाधिकारियों के साथ बाढ़ पूर्व तैयारी ,कोविड- 19 एवं एईएस/ चमकी बुखार को लेकर जिले में किए जा रहे कार्यों की विस्तृत समीक्षा की ।मुजफ्फरपुर, वैशाली, सीतामढ़ी ,शिवहर ,पूर्वी चंपारण एवं पश्चिमी चंपारण के जिलाधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े हुए थे ।प्रमंडलीय आयुक्त पंकज कुमार ने सभी जिलों के जिलाधिकारियों को स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि बाढ़ पूर्व तैयारियों से संबंधित मुकम्मल व्यवस्था निर्धारित अवधि के पूर्व पूर्ण कर लें। इस कार्य में किसी भी तरह की ढिलाई/कोताही ना हो ।सभी विभाग आपसी तालमेल और समन्वय के साथ अपने- अपने दायित्वों का निर्वहन करें ।बाढ़ पूर्व तैयारियों के अंतर्गत सभी जिलों से बारी-बारी से ऊंचे शरण स्थलों का चयन, आवश्यक वस्तुओं का दर निर्धारण ,वर्षा मापक यंत्रों की अद्यतन स्थिति, नावों की मरम्मती ,तटबंधों की सुरक्षा बाढ़ पूर्व सड़कों का मजबूतीकरण, मानव दवा की व्यवस्था, मोबाइल मेडिकल टीम ,पशु आहार का भंडारण आदि के बारे में जानकारी हासिल की ।सभी अपने-अपने जिलों में तटबंधों की सुरक्षा के मद्देनजर आवश्यक कार्रवाई जरूर पूर्ण कर लें ।साथ ही सभी डीएम औचक निरीक्षण करना भी सुनिश्चित करें। निर्देश दिया कि बाढ़ की स्थिति में पशु शरण स्थली को चिन्हित करने एवं पशु चारा की वैकल्पिक व्यवस्था हेतु आपूर्तिकर्ता एवं दर का पूर्व निर्धारण करना सुनिश्चित किया जाए।

कोरोना पर किये कार्यों की हुई समीक्षा
कोरोना संक्रमण (कोविड-19 )से संबंधित भी बारी-बारी से सभी जिलाधिकारियों से जिलों में किए जा रहे कार्यों से प्रमंडलीय आयुक्त अवगत हुए ।उन्होंने निर्देश दिया कि प्रवासी श्रमिकों के लिए रोजगार सृजन की दिशा में किये जा रहे कार्यो को और गति दें। प्रमंडलीय आयुक्त श्री पंकज कुमार ने निर्देश दिया कि प्रवासी श्रमिकों को सरकार द्वारा प्रदत्त अनुमान्य सहायता हेतु गंभीरता पूर्वक कार्य करें।कार्यों में पारदर्शिता रखें। सभी जिलाधिकारी अपने-अपने जिलों में सरकार की विकासात्मक एवं कल्याणकारी योजनाओं के साथ-साथ समानांतर रूप से कोविड मैनेजमेंट पर भी कार्य करें ताकि इसका दीर्घकालिक लाभ मिल सके। वही चमकी बुखार की समीक्षा के क्रम में मुजफ्फरपुर सहित विभिन्न जिलों में किए जा रहे कार्यों की सराहना की साथ ही निर्देश भी दिया की पीएचसी स्तर पर चिकित्सा सम्बन्धी की गई मुकम्मल व्यवस्था का अनुश्रवण सभी डीएम द्वारा सुनिश्चित की जानी चाहिये।ताकि बीमार बच्चों का इलाज सर्वप्रथम वहीं हो सकें। सिविल सर्जन मुजफ्फरपुर और अधीक्षक एसकेएमसीएच के द्वारा बताया गया कि एईएस के इलाज से संबंधित आवश्यक दवाइयां एवं उपकरणों की माकूल व्यवस्था की गई है। साथ ही मुजफ्फरपुर सहित सभी जिले पीएचसी स्तर पर प्रशंसनीय कार्य कर रहे हैं। प्रमंडलीय आयुक्त ने अन्य जिलों के जिलाधिकारियों को निर्देश दिया कि जागरूकता कार्यक्रमों को और गति दें ताकि एईएइस/ चमकी बुखार के रोकथाम और उस पर प्रभावी नियंत्रण में हम सफल हो सकें। सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया गया कि अपने-अपने जिलों में पंचायत, गांव और वार्ड स्तर तक आशा, आंगनवाड़ी सेविका और जीविका के माध्यम से डोर टू डोर जागरूकता कार्यक्रम को करवाना सुनिश्चित किया जाए ।उन्होंने कहा कि एईएस निश्चित तौर पर हमारे लिए चुनौती है परंतु सभी जिलों के परस्पर समन्वय और जिला स्तर पर विभिन्न विभागों के परस्पर समन्वय के साथ दायित्वों का निर्वहन करने पर निश्चित तौर पर एईएस को मात देने में हम कामयाब होंगे।

By | बिहार, राज्य | No Comments

एईएस पर एम्बुलेंस टेक्नीशियन को मिला प्रशिक्षण
रिपोर्ट: नसीम रब्बानी

प्रशिक्षण मे रेफरल मैनेजमेंट पर मिला प्रशिक्षण
समय पर मरीज पहुंचा पाएगें अस्पताल

वैशाली। 2 जून
एईएस के दौरान शुरुआत के चार घंटे काफी महत्वपूर्ण होते है। इस दौरान जो भी बच्चे एम्बुलेंस से लाए जाएं उनका उचित देखभाल और प्राथमिक स्वास्थ्य सुविधा मिले यही इस प्रशिक्षण का उद्देश्य है। ये बातें जिला के अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ ज्ञान शंकर ने कही। मौका था एईएस पर मंगलवार को जिला स्वास्थ्य समिति के सभागार में एम्बुलेंस के इमरजेंसी मेडिकल टीम के प्रशिक्षण का। इस मौके पर एसीएमओ ने कहा कि यह प्रशिक्षण प्रधान सचिव के निर्देश पर एईएस प्रभावित क्षेत्र के एबुंलेंस मेडिकल टेक्निीसियन के क्षमता को बढ़ाने के लिए है। जिले में जिस भी प्रखंड में एम्बुलेंस की समस्या या दिक्कत है , वहां उस कमी को पूरा किया जा रहा है। साथ ही अभिभावको से आग्रह है कि अगर आपके बच्चे में एईएस के लक्षण दिखाई दे तो उसे तुरंत ही नजदीकी पीएचसी पर लेकर जाएं। एक दिवसिय इस प्रशिक्षण में वैशाली जिले के ईएमटी को यह प्रशिक्षण दिया गया। इसके पहले भी मुजफ्फरपुर में आउटरीच की मेंटर्स को एईएस पर प्रशिक्षण दिया गया था।
यह प्रशिक्षण केयर के डॉ ऐनी ने दिया। उन्होंने ईएमटी को इमरजेंसी में निपटने के लिए एहतियात और जरुरी प्रशिक्षण प्रदान किया। जिसमें सोडियम की कमी को तुरंत पूरा करना, लाइफ सर्पोटिंग सिस्टम सहित अन्य जानकारियां थी।

अभी फैलायी जा रही है जागरुकता
केयर जिला संसाधन ईकाई के डीटीएल सुमित ने कहा कि अभी एईएस प्रभावित क्षेत्र में जागरुकता का कार्यक्रम चलाया जा रहा है। जिसमें दिवाल लेखन, सामुदायिक बैठक, आशा और एएनएम द्वारा जागरुकता भी फैलाया जा रहा है। वहीं पोषक क्षे़त्रों के बच्चों को दूध भी उपलब्ध कराया जा रहा है। वहीं आरोग्य दिवस के मौके पर सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर सप्ताह के दो दिन जेई के टीके भी लगाये जा रहे हैं।

इमरजेंसी मेडिकल टेक्नीशियन निभाते हैं अहम भूमिका

एईएस में सबसे अहम शुरुआत के दो से चार घंटे महत्वपूर्ण होते हैं। ई एम टी मेडिकल मुद्दों, दर्दनाक चोटों और दुर्घटना के दृश्यों के बारे में आपातकालीन परिस्थितियों में तुरंत प्रतिक्रिया देने के लिए प्रशिक्षित हैं।
कार्यक्रम में एसीएमओ डॉ ज्ञान शंकर, नाइमा, स्मता, स्वर्णलता, वीणा, अनुराधा, कनकलता सहित सभी प्रखंडों से इमरजेंसी मेडिकल टेकिनीशियन मौजूद थे।

चमकी बुखार की रोकथाम में मुखिया निभाएंगे महत्वपूर्ण भूमिका रिपोर्ट:नसीम रब्बानी

By | बिहार, राज्य | No Comments

चमकी बुखार की रोकथाम में मुखिया निभाएंगे महत्वपूर्ण भूमिका रिपोर्ट:नसीम रब्बानी

– वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी मुखिया को चमकी बुखार की रोकथाम के संबंध में दी जानकारी
सीतामढ़ी। 2 जून
एक तरफ आंगनवाड़ी सेविका सहायिका घर घर जाकर चमकी को धमकी दे रही हैं। वहीं दूसरी तरफ अब मुखिया एवं स्थानीय जनप्रतिनिधि भी चमकी से बचाव को लेकर लोगों को करेंगे जागरूक करेंगे। डीएम अभिलाषा कुमारी शर्मा के निर्देश पर आलोक में समाहरणालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से डॉक्टर रविंद्र कुमार यादव द्वारा सभी मुखिया को चमकी बुखार एवं उससे बचाव के संबंध में व्यापक जानकारी दी गई।डॉ रविंद्र कुमार ने कहा कि मस्तिष्क ज्वर अथवा चमकी बुखार एक गंभीर बीमारी है जिसका अगर समय पर इलाज हो तो मरीज निश्चित रूप से ठीक हो जाता है। उन्होंने कहा कि अत्याधिक गर्मी एवं नमी के मौसम में यह बीमारी फैलती है। 1 से 15 वर्ष के बच्चे इस बीमारी से ज्यादा प्रभावित होते हैं। तेज बुखार आना चमकी आना, दांत लगना ,बच्चे का सुस्त होना, आदि इसके लक्षण हैं। उन्होंने कहा कि सामान्य उपचार एवं सावधानियां से हम चमकी रोग का बचाव कर सकते हैं। अपने बच्चे को धूप से बचाएं, गर्मी के दिनों में बच्चों को ओआरएस का घोल अथवा नींबू चीनी पानी का गोल पिलाएं, रात में बच्चे को भर पेट खाना खिला कर ही सुलाये। उन्होंने कहा कि यह दैविक प्रकोप नहीं है बल्कि अत्याधिक गर्मी एवं नमी के कारण होने वाली बीमारी है। अतः बच्चे के इलाज में अंधविश्वास या ओझा गुनी का सहारा नहीं ले। तेज बुखार होने पर पूरे शरीर को ताजे पानी से पोछे एवं पंखा से हवा करें ताकि बुखार 100 डिग्री फारेनहाइट से कम हो सके। तुरंत अपने नजदीक के स्वास्थ्य केंद्र से संपर्क करें। डीएम ने कहा कि लोगों में जागरूकता लाकर हम चमकी बुखार के प्रभाव को काफी कम कर सकते हैं इसमें हमारी मुखिया गणों एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों की महत्वपूर्ण भूमिका है।

सजग रहे,सतर्क रहें

कोरोना संक्रमण से बचने के लिए मास्क पहनकर ही बाहर निकले,सदैव सामाजिक दूरी का पालन करे,किसी भी प्रकार के लक्षण महसूस होने पर जिला प्रशसन के नंबर 06226- 250316 पर सम्पर्क करें। हमेशा सरकार के दिशा निर्देशों का जरूर पालन करे। हम सब मिलकर ही कोरोना संक्रमण के चेन को रोक सकते है।

बिहार S T E T परीक्षा रद्द करने एवं बिहार में बढ़ते अपराध के खिलाफ A I S F जंदाहा अंचल ने दिया धरना। रिपोर्ट: पारस नाथ सिंह

By | बिहार, राज्य | No Comments

बिहार S T E T परीक्षा रद्द करने एवं बिहार में बढ़ते अपराध के खिलाफ A I S F जंदाहा अंचल ने दिया धरना।
रिपोर्ट: पारस नाथ सिंह


वैशाली: राज्य व्यापी कार्यक्रम के तहत A I S F जंदाहा अंचल के द्वारा चांद सराय भारतीय कम्यूनिस्ट पार्टी कार्यालय A I S F जंदाहा अंचल के कार्यकर्ताओं के द्वारा बिहार सरकार के जन विरोधी नीतियों के खिलाफ विभिन्न मांगों को लेकर एक दिवसीय धरना दिया गया इस धरना को संबोधित करते हुए A I S F जंदाहा अंचल सचिव सह जिला सचिव उत्तम कुमार ठाकुर ने कहा आज़ हम लोग जो धरना पर बैठे हैं इसमें हमारी मांगे इस प्रकार है
01, बिहार S T E T परीक्षा जो रद्द किया गया है उसे वापस लो ,
02, बिहार में बढ़ते अपराध पर रोक लगाओ,
03, आए हुए तमाम प्रवासी मज़दूरों को गृह राज्य में रोजगार देने की गारंटी करो ,
04, क्वारंटाईन सेंटर में रह रहे प्रवासी मजदूरों एवं छात्रों को तमाम सुविधाएं उपलब्ध कराओ ,
इत्यादि मांगों को लेकर आज़ हम लोग बैठे हैं अगर हमारी मांगे नहीं मानी गई तो A I S F मजदूरों एवं छात्रों के हित के लिए आंदोलन करने के लिए बाध्य होगा ,
इस सभा को संबोधित करते हुए भाकपा नेता प्रमोद कुमार चौधरी ने कहा बिहार में बढ़ते अपराध पर नीतीश कुमार मौन हैं आए दिन रोज़ व रोज़ हत्याएं हो रही है और यह हत्या जनप्रतिनिधि और प्रशासन आपसी सांठगांठ से करवा रहे हैं ताकि समाज के दबे-कुचले लोगों पर शोषण कर सकें जिसका उदाहरण वीरपुर थाना क्षेत्र की बिक्रम हत्या काण्ड है जिस हत्या काण्ड को उजागर करने की जुर्म में साथी ऋषभ एवं उनके परिवार के ऊपर फर्जी मुकदमा किया गया है इसलिए हम बिहार सरकार को आगाह करते हैं आप तमाम दोषियों को सज़ा दिलाते हुए बिहार में शांति स्थापित करें अन्यथा A I S F जनता की रक्षा के लिए आर पार की लड़ाई लड़ेगा?
इस अवसर पर सुजीत कुमार, राजा कुमार, कुन्दन कुमार , मदन कुमार , पवन कुमार इत्यादि उपस्थित थें?

भाजयुमो मंडल अध्यक्ष की मौत पर छात्र जदयू ने दिया श्रद्धांजलि रिपोर्ट:- रंजीत कुमार

By | बिहार, राज्य | No Comments

भाजयुमो मंडल अध्यक्ष की मौत पर छात्र जदयू ने दिया श्रद्धांजलि

रिपोर्ट:- रंजीत कुमार
विभूतिपुर/समस्तीपुर

प्रखण्ड मुख्यालय में छात्र जदयू के प्रखण्ड अध्यक्ष संतोष कुमार कुशवाहा की अध्यक्षता में शोक सभा आयोजित किया गया। जिसमें भाजयुमो मंडल अध्यक्ष को श्रद्धांजलि दिया गया।तथा आयोजित सभा के माध्यम से ही निष्पक्ष जाँच कर प्राथमिकि दर्ज कर जल्द से जल्द अपराधियों की गिरफ्तारी की माँग किया जाने का निर्णय लिया गया। और जल्द ही चंदन के परिजनो से मुलाकात करके थाना अध्यक्ष को ज्ञापन सौपने का निर्णय लिया गया। अगर निष्पक्ष जाँच नहीं होती है तो छात्र जदयू चरणबद्ध तरीके से करेगा आंदोलन।
श्रद्धांजलि सभा में विवेकानंद, अमर कुमार, पिन्टू कुमार समेत सैकड़ों छात्र जदयू कार्यकर्ता उपस्थित थे। चंदन के मौत पर छात्र जदयू जिला अध्यक्ष रंधीर कुमार राय ने भी शोक संवेदना जतायी है।

जन वितरण प्रणाली दुकानदारों के मनमानी के खिलाफ ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन रिपोर्ट:- मो० मिन्नतुल्लाह

By | बिहार, राज्य | No Comments

जन वितरण प्रणाली दुकानदारों के मनमानी के खिलाफ ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

रिपोर्ट:- मो० मिन्नतुल्लाह

मोतिहारी/रक्सौल:- प्रखण्ड के भेलाही पंचायत में मंगलवार को एम.ओ साहब का आने का कार्यक्रम था लेकिन साहब नही आएं। जिसके कारण ग्रामीणों में बहुत ज्यादा गुस्सा देखा गया। साहब को आने से भेलाही पंचायत वासियों में एक उम्मीद की किरणें जगी हुई थी। ग्रामीणों को कहना था कि हम सबको इतने दिनों से जन वितरण प्रणाली दुकानदारों के द्वारा राशन से वंचित रखा गया है। उसपर कुछ कार्रवाई होगी। जिसको लेकर बहुत सारे ग्रामीण वाशियों ने भेलाही बाजार में एकत्रित हुए थे। और उनका कहना था कि अधिकारियों से हम बात करके अपनी समस्सया कहेंगे और उनसे समाधान की दिशा में काम करने को भी कहेंगे इससे सभी ग्रामीणों में एक उम्मीद और आशा जगी हुई थी, चुकी आज हमारा देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है। और इसको कोरोना महामारी में भी राशन दुकानदारों के द्वारा मनमानी करते हुए राशन का घोटाला किया गया। जिससे गरीब परिवार में भुखमरी की स्थिति पैदा हो गई है, वही ग्रामीण वाशियों ने अपने नाराजगी जाहिर करते हुए सड़क पर प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन में मुख्य रूप से राजालाल ठाकुर, हदीश देवान, सुरेश दास, सुनेसर देवी, दूलारी देवी, शिवनाथ राम, गंगाजली देवी, मनोज पासवान, हिरा पासवान, शोभा खातून, शंभू प्रसाद,सुजित कुमार, जहाँगीर मियां, राघव प्रसाद, शिव कुमारी देवी सहित सैकड़ों ग्रामीण उपस्थित थे

पूर्व केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री सह रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को विभूतिपुर में किया गया भव्य स्वागत रिपोर्ट:- रंजीत कुमार

By | बिहार, राज्य | No Comments

पूर्व केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री सह रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को विभूतिपुर में किया गया भव्य स्वागत

रिपोर्ट:- रंजीत कुमार
विभूतिपुर/समस्तीपुर


पूर्व केंद्रीय मानव संसाधन राज्य मंत्री सह रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा बिहार बोर्ड के दसवी कक्षा के बोर्ड परीक्षा में राज्य स्तर पर दूसरे स्थान लाने वाले उजियारपुर प्रखंड के मालती पँचायत निवासी दुर्गेश कुमार को सम्मानित करने के लिए जाने के क्रम में नरहन पुल के रास्ते से विभूतिपुर प्रखंड के सीमा में प्रवेश करने पर जिला एवम प्रखंड के कार्यकर्ताओं ने फूल ,माला ,डायरी, कलम, सेनेटाइजर तथा मास्क देकर स्वागत किया। जिन कार्यकर्ताओ ने श्री कुशवाहा जी को स्वागत किया उनमे जिला अध्यक्ष अनन्त कुशवाहा, विभूतिपुर प्रखंड अध्यक्ष मनोज कुमार, प्रदेश उपाध्यक्ष रामदयालु महतो, प्रदेश नेत्री स्वीटी प्रिया, अरविंद कुमार , प्रदेश नेता बिनोद चौधरी निसाध, जनार्दन प्रसाद, महेंद्र प्रसाद, अरविंद कुशवाहा, लक्क्ष्मी नारायण, दिनेश प्रसाद, मुकेश कुमार, अमरजीत कुमार, बीआईपी प्रखंड अध्यक्ष सरोज कुमार ठाकुर, बीआईपी सरायरंजन विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, संजीत सहनी, सहित सैकड़ो की सख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।