Breaking News

उत्तर प्रेदश:- योगी जी की विकास की राहें अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है !
उत्तर प्रेदश:- रंगरलियां मना रहे दो जोड़ो की हुई जमकर पिटाई
देश:- प्रधानमंत्री ने कहा कि सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण विधेयक एक ऐतिहासिक कदम है जो गरीबों के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है
देश:- स्वच्छ भारत मिशन खुले में शौच से मुक्त भारत के लक्ष्य प्राप्ति की ओर
देश:- मेघालय में पहली ‘स्वदेश दर्शन’ परियोजना का उद्घाटन
देश:- रेल संरक्षा में भारत-जापान सहयोग के लिए रेलमंत्रालय ने चर्चा रिकॉर्ड पर हस्‍ताक्षर किये |
All Posts By

post feeder

नदी में गिर जाने से किशोर चरवाहा की मौत हो गई।

By | बिहार, राज्य | No Comments

नदी में गिर जाने से किशोर चरवाहा की मौत हो गई।

रिपोर्ट:अंजुम शहाब

मुजफ्फरपुर। बिहार। जिले के सकरा थाना क्षेत्र के डीह गौडिहार तकिया चौक के समीप नुन नदी के किनारे मवेशी चराने के दौरान पैर फिसल जाने से नदी में गिर जाने से किशोर चरवाहा की मौत हो गई। वरियार पुर पुलिस शव को कब्जे में ले के पोस्टमार्टम रिपोर्ट के लिए एस के एम सीएच मुजफ्फरपुर भेज दिया है। बताया जाता है कि सकरा थाना क्षेत्र के डीह गौडिहार निवासी शिव दयाल भगत का 16 वर्षीय पुत्र कपिल भगत नून नदी के किनारे मवेशी चराने गया था। जहां मवेशी चराने के दौरान पैर फिसल जाने से नदी में गिर जाने से चरवाहे की मौत हो गई।

खतरों के बीच डॉ दास पूर्णता से संभाल रहे जिले में स्वास्थ्य विभाग की जिम्मेदारी

By | बिहार, राज्य | No Comments

खतरों के बीच डॉ दास पूर्णता से संभाल रहे जिले में स्वास्थ्य विभाग की जिम्मेदारी

रिपोर्ट:नसीम रब्बानी

जिले में नियमित करायी सामान्य स्वास्थ्य सुविधाएं -केयर के डीटीएल सौरभ तीवारी ने शुरुआत से ही दिया तकनीकी पक्ष से सहयोग

मुजफ्फरपुर। 9 जुलाई :

कोरोना संक्रमण से सभी हताहत हैं। डॉक्टर और स्वास्थ्य पदाधिकारी भी इस संक्रमण की जद में धीरे-धीरे शामिल होते जा रहे हैं। कुछ ऐसा ही हाल शहर का भी है। जिला स्वास्थ्य समिति के सिविल सर्जन सहित करीब आधा दर्जन डॉक्टर और पदाधिकारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। ऐसे में स्वास्थ्य सुविधाओं को बहाल करना एक चुनौती भरा काम है। स्वास्थ्य विभाग के इस विपत्ति काल में सदर अस्पताल में विशेषज्ञ के रुप में कार्यरत डॉ सीके दास ने कमान संभाली है। उनकी कोशिश है कि आम नागरिकों को आम दिनों की तरह ही स्वास्थ्य सुविधाएं मिले। इसके लिए वह सतत् प्रयासरत भी हैं।

सैंपलिंग से लेकर कोविड केयर तक जिम्मेवारी:

यह सच है कि कोरोना संक्रमितों के बीच जाकर लोगों की सैंपलिंग करना आसान नहीं है। वहीं उससे भी चुनौतिपूर्ण काम है कोविड केयर सेंटर की सतत निगरानी और वहां भर्ती मरीजों की देखभाल करना। इन सभी कार्यों को पूरे ही मनोयोग से डॉ दास पूरा कर रहे हैं। वहीं इस काम में कोविड के शुरुआती दौर से ही साथ दे रहे हैं केयर जिला संसाधन ईकाई के डीटीएल सौरभ तीवारी। इन दोनों के सहयोग और सुपरविजन में ही जिले में कोरोना के मामलों को हैंडल किया जा रहा है। जिसमें उचित पोषण और देखभाल के बदौलत ही मरीज बिना किसी परेशानी के यहां से ठीक होकर भी जा रहे हैं। वहीं आंकड़ों के संरक्षण का काम जयशंकर प्रसाद के द्वारा किया जाता है, जिससे लोगों तक जिले के सही आंकड़ें पहुँच पाती है। वह इस आंकड़े को बिहार और भारत सरकार को भी भेजते हैं।

स्वास्थ्य सुविधाओं पर कोई असर नहीं:

डॉ चंद्रजीत दास कहते हैं उनके पास कोविड-19 की जिम्मेदारी तो थी ही साथ में पदाधिकारियों के आइसोलेशन के बाद सामान्य स्वास्थ्य की सुविधाओं को लागू रखना बड़ी चुनौती थी। इसके लिए स्वास्थ्यकर्मियों को मानसिक बल देना बहुत जरुरी होता है। उन्होंने बताया उन्होंने उनके साथ काम किया ताकि उनकी हिचक टूटे। वह हर वैसी जगह गए, जहां खतरे ज्यादा थे, पर कुछ सावधानियों को ध्यान में रखा जाय तो उन खतरों से बचा जा सकता है। वह दिन में अभी करीब 15 से 16 घंटे कार्य कर रहे हैं। वह स्वास्थ्यकर्मियों के बीच भी जाते हैं ताकि उनका मनोबल बना रहे। उन्होंने जेनरल ओपीडी, प्रसव, टीकाकरण, पैथेलॉजी सभी को चालू रखा। वह कहते हैं, इसके साथ उन्होंने एहतियात के तौर पर लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने की अपील किया ताकि वे यहां से ईलाज करा कर जाएं। बीमारी लेकर नहीं।

मुज़फ़्फ़रपुर में 9 जुलाई से 12 जुलाई तक अतिवृष्टि होने की संभावना है,सभी विभाग अलर्ट मोड़ पर रहेंगे

By | बिहार, राज्य | No Comments

मुज़फ़्फ़रपुर में 9 जुलाई से 12 जुलाई तक अतिवृष्टि होने की संभावना है,सभी विभाग अलर्ट मोड़ पर रहेंगे

रिपोर्ट:अंजुम शहाब

मुज़फ़्फ़रपुर।बिहार सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग, जल संसाधन विभाग एवं मौसम विभाग ने मुजफ्फरपुर एवं उसके आसपास के क्षेत्रों में 9 जुलाई 2020 से 12 जुलाई 2020 तक अतिवृष्टि होने की संभावना है ।इस संबंध में आज आपदा प्रबंधन विभाग ने अलर्ट भी जारी कर दिया है। मुजफ्फरपुर शहरी क्षेत्रों में भीषण जलजमाव तथा ग्रामीण क्षेत्रों में नदियों के जलस्तर में वृद्धि होने से आमजन एवं शहरी लोगों को कठिनाइयों का सामना करने से इनकार नहीं किया जा सकता है ।इस बाबत जिलाधिकारी चन्द्रशेखर सिंह ने सभी विभागों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं एवं अलर्ट मोड में रहने का निर्देश भी दिया गया है।साथ ही इस दौरान वरीय पुलिस अधीक्षक जयकांत को भी पत्र भेज कर अलर्ट मोड़ पुलिस को रहने का निर्देश दिया गया है।

वैशाली जिला पदाधिकारी श्रीमती उदिता सिंह द्वारा समाहरणालय सभागार में अनुसंडल अनुश्रवण समिति की बैठक का आयोजन।

By | बिहार, राज्य | No Comments

वैशाली जिला पदाधिकारी श्रीमती उदिता सिंह द्वारा समाहरणालय सभागार में अनुसंडल अनुश्रवण समिति की बैठक का आयोजन।

रिपोर्ट : नसीम रब्बानी

बिहार :-वैशाली जिला पदाधिकारी ,श्रीमती उदिता सिंह द्वारा समाहरणालय सभागार में अनुसंडल अनुश्रवण समिति की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक की शुरूआत जल – जीवन – हरियाली योजना की प्रगति की समीक्षा से की गयी।पोखरों के अतिक्रमण से संबंधित जानकारी प्राप्त की गयी। बिदुपुर के प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि दो पोखरों का अतिक्रमणमुक्त होना अभी शेष है।जिला पदाधिकारी द्वारा जल्द से जल्द शेष बचे पोखरों का थाने के साथ समन्वय कर अतिक्रमण मुक्त कराने का निदेश दिया गया। जिला पदाधिकारी द्वारा अभियान बसेरा योजना के तहत जमीन की उपलब्धता सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया। उन्होंने निदेश दिया कि सरकारी जमीन हो तो ठीक है अन्यथा क्रय कर जमीन उपलब्ध करायें । क्रय हेतु जमीन चिन्हित करने का भी निदेश दिया गया । निदेशक , डी 0 आर 0 डी 0 ए 0 से वृक्षारोपण की अद्यतन स्थिति पर समीक्षा की गयी। हाजीपुर अनुमंडल में 01 लाख 78 हजार 8 सौ वृक्षारोपण का लक्ष्य है। उद्यान विभाग के पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि दो लाख चालीस हजार फलदार पेड़ वृक्षारोपण हेतु जीविका को दिये जायेगें , वृक्ष लगाने एवं उसकी उत्तरजीविता का दायित्व जीविका द्वारा ही सुनिश्चित किया जाना है। जिला पदाधिकारी द्वारा निदेश दिया गया कि नल जल योजना के तहत शेष बचे कार्य सभी प्रखंड 15 जुलाई तक पुरा करना सुनिश्चित करें। लालगंज , बिदुपुर प्रखड़ों की स्थिति ठीक नहीं रहने पर वरीय प्रभारियों को शीघ्र पुरा कराने का निदेश दिया गया। आपूर्ति विभाग के राशन कार्ड वितरण पर समीक्षा की गयी। आपूर्ति प्रशाखा के अनुसार प्रथम चरण का वितरण पूरे जिले में पूर्ण रूप से कर दिया गया है। जिला पदाधिकारी द्वारा वैशाली प्रखंड में आत्मनिर्भर भारत योजना की प्रगति ठीक नही होने का कारण पूछा गया। हाजीपुर के प्रखंड विकास पदाधिकारी से राशन कार्ड की आर 0 टी 0 पी 0 एस 0 इन्ट्री की स्थिति ठीक नही रहने पर शीघ्र पूरा करने का निदेश दिया गया। आंगनवाड़ी केन्द्र निर्माण हेतु सभी अंचलाधिकारी से जमीन उपलब्धता पर समीक्षा की गयी। मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना पर प्रखंडवार समीक्षा की गयी । सभी प्रखंडों द्वारा इस योजना के तहत गाड़ियों को वितरित करने की समयसीमा दी गयी। जिला पदाधिकारी द्वारा आवास योजना की प्रखंडवार समीक्षा की गयी। लालगंज , हाजीपुर , राघोपुर एवं अन्य प्रखंडों की स्थिति ठीक नहीं रहने पर 15 जुलाई तक इसे पुरा करने का निर्देश दिया गया। प्रखंड विकास पदाधिकारी को अविलंब इन्ट्री पूर्ण कराना सुनिश्चित करने अन्यथा दोषी लोगों पर कार्रवाई कर रिपोर्ट देने का निदेश दिया गया। अन्त्योदय योजना एवं वास स्थल क्रय योजना की भी समीक्षा की गयी। लालगंज , भगवानपुर अंचलाधिकारी को जमीन का दाखिल खारिज का 90 प्रतिशत लक्ष्य अगले दस दिनों के अन्दर पुरा नहीं करने पर प्रपत्र ” क ” भरने का निदेश दिया गया। भूमि सुधार उप समाहर्ता हाजीपुर को भी निदेश दिया कि वे अंचलों के -लगान की स्थिति पर ध्यान रखें तथा लगातार निगरानी करते रहें । सभी वरीय प्रभारियों द्वारा अपने – अपने प्रखंडों के निरीक्षणोपरांत योजनाओं की समीक्षा की स्थिति जिला पदाधिकारी के समक्ष रखा गया। सभी वरीय पदाधिकारियों द्वारा जल जीवन हरियाली योजना , नल जल योजना , मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना , आपदा , सड़क , भू – लगान , दाखिल खारिज एवं अन्य विषयों पर अपने – अपने प्रखंडों की अद्यतन स्थिति से जिला पदाधिकारी को अवगत कराया गया। वरीय प्रभारी द्वारा बताया गया कि राघोपुर प्रखंड में मनरेगा प्रोग्राम पदाधिकारी का कार्यालय बंद था जिस पर जिला पदाधिकारी द्वारा कार्रवाई करने का निदेश दिया गया।वरीय पदाधिकारी द्वारा बिदुपुर में तालाबों के अतिक्रमण मुक्त नहीं हो सकने की जानकारी दी गयी। भगवानपुर प्रखंड के वरीय प्रभारी द्वारा मनरेगा प्रोग्राम पदाधिकारी के बैठक में अनुपस्थित रहने की जानकारी देने पर जिला पदाधिकारी द्वारा कार्रवाई करने एवं वेतन बंद करने का निदेश दिया गया। जिला पदाधिकारी द्वारा प्रखंड मुख्यालय में सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी / अंचलाधिकारी को निर्देश दिया कि राज्य में कोविड -19 संक्रमण में तेजी के मद्देनजर सभी प्रखंड मुख्यालय में सभी दुकानों में कर्मियों एवं ग्राहकों को मास्क पहनना सुनिश्चित करायें और उल्लंघन करने वाले दुकानों को सील करें। इस संबंध में आमजनों में जागरूकता लाने हेतु सार्वजनिक वितरण प्रणाली केन्द्रों , सरकारी कार्यालयों , बाजारों , चौक – चौराहों आदि पर पोस्टर लगाने का निदेश दिया। एल ० डी ० एम को निदेश दिया गया कि सभी बैंकों में पोस्टर लगवाये की ” बिना मास्क प्रवेश वर्जित है ” जिला पदाधिकारी द्वारा सभी वरीय प्रभारियों / प्रखंड विकास पदाधिकारी / अंचलाधिकारी / बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को मास्क जाँचने एवं मास्क का उपयोग नहीं करने वालो का चालान काटने हेतु अधिकृत किया गया तथा उन्हें निदेश दिया गया कि वे जब भी प्रखंड में जाये तो वे मास्क पहनने का अनुपालन देखें तथा उल्लंघन करने वालों पर दण्डात्मक कार्रवाई करें। उक्त बैठक में अपर समाहर्ता श्री जितेन्द्र कुमार साह , अनुमंडल पदाधिकारी हाजीपुर , सभी वरीय पदाधिकारी सहित अन्य पदाधिकारी गण उपस्थित थे।

खिलाड़ियों का उत्साह बढाने पहुंचें रौशन भरद्वाज

By | बिहार, राज्य | No Comments

खिलाड़ियों का उत्साह बढाने पहुंचें रौशन भरद्वाज

विक्रांत कुमार

पटना : बाढ़ अनुमंडल में मंगलवार को कब्बडी प्रतियोगिता आयोजित किया गया हैं। प्रतियोगिता काफी रोमांचक रहा इस रोमांचक मुकाबले में लाल जर्सी में उतरी सैदपुर की टीम ने बादोपुर को 28-17 से हराया। कबड्डी प्रतियोगिता में मुख्य अतिथि रौशन भारद्वाज ने विधिवत शुभारंभ किया गया। मौके पर आये रौशन भारद्वाज ने खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया।उन्होंने कहा कि “गावँ की मिट्टी से ही बड़े बड़े खिलाड़ी निकलते हैं।

आज महेंद्र सिंह धोनी का जन्मदिन है वो भी आपलोगों की तरह गावँ की मिट्टी से निकले और देश के महान खिलाड़ी बने। आपलोग भी आगे बढ़े ,देश के लिए खेलें, सभी को अनंत शुभकामनाएं”।

इस समारोह में उपस्थित भाजपा नेता धीरज कुमार ने कहा कि”समय समय पर खेल कूद की गतिविधियां होती रहनी चाहिए, स्वस्थ तन में ही स्वस्थ मन का निवास होता है।”

प्राइवेट अस्पताल में फ्री हुआ चमकी का ईलाज, खिल उठा पिता का चेहरा

By | बिहार, राज्य | No Comments

प्राइवेट अस्पताल में फ्री हुआ चमकी का ईलाज, खिल उठा पिता का चेहरा

रिपोर्ट:नसीम रब्बानी

– 21 मई को 4 साल का नैतिक हुआ था एईएस से पीड़ित
– गांव के डॉक्टर ने बताया यह चमकी का है प्रभाव
– प्राइवेट अस्पताल में हुआ चमकी का मुफ्त ईलाज

मुजफ्फरपुर। 7 जुलाई

कुढ़नी प्रखंड के किसुनपुर मधुबन के अमित सिंह के बेटे नैतिक ने चमकी से जंग जीत ली है। नैतिक के घर में 21 मई की सुबह आम माहौल ही था। नैतिक को उसकी दादी खिलाने के लिए ढूंढ रही थी। इसी बीच मां ने उसके नटखटेपन से तंग आकर सुला दिया था। उसकी दादी उसे उठाकर खिलाने के गयी तो देखा कि नैतिक के मुंह से झाग निकल रहा है शरीर ऐंठ चुका है और वह बेहोश है। यह स्थिति देखते ही उसके घर में कोहराम मच गया। उनके पिता ने जल्दी से गांव के ही एक प्राइवेट डॉक्टर के पास गये। वहां डॉक्टर ने लक्षण के आधार पर ईलाज करने से मना कर केजरीवाल हॉस्पीटल ले जाने को कहा। तत्परता दिखाते हुए नैतिक के पिता ने अपने ही वाहन से नैतिक को अस्पताल पहुंचाया।
रजिस्ट्रेशन फी भी हुई रिटर्न:
अमित कहते हैं उन्हें मालूम नहीं था कि चमकी का मुफ्त में ईलाज होता है। उन्होंने एक हजार रुपये रजिस्ट्रेशन के दिए। लेकिन अस्पताल प्रशासन की इसकी जानकारी मिलते ही रजिस्ट्रेशन का पैसा अमित को वापस दिलाया गया। अमित ने बताया साफ -सुथरा बेड, अत्याधुनिक सुविधाएं एवं अनुभवी डॉक्टर की देखरेख में उनके बेटे का ईलाज हुआ। इस दौरान उनका एक रुपया भी खर्च नहीं हुआ।दो दिन बाद नैतिक ने खोली आंखे:
जब ईलाज शुरु हुआ तो सबसे पहले इसका ग्लूकोज लेवल नापा गया, फिर पानी की बोतलें चढ़ने लगा। दवाई लगने लगी तब कहीं जाकर देा दिन बाद नैतिक ने अपनी आंख खोली। पूरे ईलाज के दौरान इसके मां इसके बेड के आस-पास ही रही। अमित बताते हैं आंख खोलने पर पूरे परिवार को जो खुशी हुई वह शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता। कुल 4 दिनों के बाद नैतिक को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया। आरबीएसके के डॉक्टरों ने किया फॉलोअप:
अमित ने बताया जब नैतिक केजरीवाल अस्पताल से लौट कर आया तो उसके स्वास्थ्य की जांच के लिए घर पर आरबीएसके के डॉक्टर आते थे एवं नैतिक के स्वास्थ्य के विभिन्न पहलुओं की जांच करते थे। साथ ही उसकी मानसिक स्थिति का भी जायजा लेते थे। अमित कहते हैं अस्पताल से ईलाज के आने के बाद उनका बेटा ज्यादा एनर्जिक महसूस करता है। अब उसके खान-पान और साफ-सफाई पर पूरा परिवार काफ़ी ध्यान देता है।
नैतिक के पिता ने अपनाया है परिवार नियोजन :अमित कहते हैं कि उन्होंने शुरुआत में ही सोंच लिया था कि कुछ भी हो उन्हें एक बच्चा ही रखना है। जब नैतिक हुआ उसके बाद ही उन्होंने परिवार नियोजन के स्थायी साधन को अपना लिया था। नैतिक के इस बार पीड़ित होने पर सब सहम से गये थे। अब वह सदा ही उसके खान-पान और साफ-सफाई पर ध्यान रखूंगा। इस हादसे के बाद से अमित गांव के लोगों को भी चमकी के लक्षण और ससमय ईलाज के बारे में लोगों को जानकारी देते हैं।

महुआ के पुरानी बाजार स्थित महावीर मंदिर के प्रांगण में हिंदूवादी संगठन का बैठक सम्मपन।

By | बिहार, राज्य | No Comments

महुआ के पुरानी बाजार स्थित महावीर मंदिर के प्रांगण में हिंदूवादी संगठन का बैठक सम्मपन।

रिपोर्ट अमरेश कुमार महुआ वैशाली।

बिहार:- वैशाली जिला अन्तर्गत महुआ प्रखन्ड मे आज दिनांक 07/07/2020 को महुआ के पुरानी बाजार स्थित महावीर मंदिर के प्रांगण में हिंदूवादी संगठन का बैठक सम्पन हुआ जिसमें यह निर्णय लिया गया कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की हत्या की सीबीआई से जांच किया जाए , तथा बिहार सरकार के उदासीन रवैया के खिलाफ आगामी दिनांक 10/07/2020 को समय सुबह 9:00 बजे से गांधी चौक से आक्रोश मार्च निकाला जाएगा ।जिसमें अधिक – से – अधिक संख्या में लोगो को आकर आक्रोश मार्च को सफल बनाने कि अपिल किया गया ।इस बैठक में मोहन कुमार ,उमेश कुमार ,शंभू सुमन जायसवाल, दीपक सिंह माया, कुंवर जी ,शिवचंद्र राय, अरुण कुमार सिंह , नंदन कानू, अनिल तिवारी एवं अन्य लोग उपस्थित थे ।

संक्रमण काल में परिवार नियोजन की तैयारी शुरू, जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा का होगा आयोजन

By | बिहार, राज्य | No Comments

संक्रमण काल में परिवार नियोजन की तैयारी शुरू, जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा का होगा आयोजन

रिपोर्ट:नसीम रब्बानी

(कार्यपालक निदेशक, राज्य स्वास्थ्य समिति ने पत्र लिखकर दी जानकारी)
{27 जून से 10 जुलाई तक चलेगा दंपति संपर्क पखवाड़ा}”आपदा में भी परिवार नियोजन की तैयारी सक्षम राष्ट्र और परिवार की पूरी जिम्मेदारी” होगी थीम

मुज़फ़्फ़रपुर / 07 जुलाई

विगत 10 वर्षों से 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जा रहा है। यद्यपि देश कोरोना संक्रमण के बीच में हैं, लेकिन प्रजनन स्वास्थ्य सेवाओं का प्रावधान न सिर्फ़ अनचाहे गर्भधारण को रोकने के लिए बल्कि मातृ और शिशु स्वास्थ्य कल्याण में भी महत्व रखता है। इसलिए विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर इस प्रतिकूल परिदृश्य में पूरे माह जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा को प्रखंड स्तर तक जारी रखने को लेकर अपर सचिव एवं मिशन निदेशक, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, ने 26 जून को पत्र के माध्यम से निर्देशित किया था। इसको लेकर कार्यपालक निदेशक, राज्य स्वास्थ्य समिति, मनोज कुमार ने 3 जुलाई को सभी जिला पदाधिकारी, चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल के निदेशक/ अधीकक्षक एवं सभी जिलों के सिविल सर्जन को इस संबंध में पत्र लिखकर जानकारी दी है। इस वर्ष के जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा का थीम “आपदा में भी परिवार नियोजन की तैयारी सक्षम राष्ट्र और परिवार की पूरी जिम्मेदारी” रखी गयी है।

दो चरणों में होगा आयोजन:
जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा का आयोजन दो चरणों में किया जायेगा। दंपति संपर्क पखवाड़ा 10 जुलाई तक चलेगा एवं 11 जुलाई से 31 जुलाई तक जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा का आयोजन होगा। सभी आयोजनों का संपादन कोविड-19 महामारी में दिए गए दिशानिर्देशों के अनुरूप होगा। राज्य स्वास्थ्य समिति ने पत्र में उल्लेख किया है कि जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा संचालन के संबंध में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रखंड स्तरीय पदाधिकारी से तथा आशा का ऑनलाइन उन्मुखीकरण किया जाए ताकि वह जनसंख्या स्थिरीकरण की जरूरत सही उम्र में शादी, पहले बच्चे की देरी तथा बच्चों में सही अंतराल के बारे में आमजन के मध्य चर्चा कर मां और शिशु स्वास्थ्य को बेहतर कर सकें। फ्लेक्स एवं पोस्टर के माध्यम से भी प्रचारित करने के विषय में निर्देश दिए गए हैं।

सेवा प्रदायगी में संक्रमण रोकथाम पर सतर्कता:
पत्र में पखवाड़े के दौरान परिवार नियोजन सेवाओं के तहत प्रदान की जाने वाली आईयूसीडी(कॉपर टी), गर्भनिरोधक सुई, महिला एवं पुरुष नसबंदी आदि की सेवा प्रदान करने में विशेष रुप से सोशल डिस्टेंसिंग तथा इनफेक्शन प्रीवेंशन कंट्रोल का ध्यान रखने के निर्देश दिए गए हैं। पखवाड़ा को सफल बनाने के लिए डिजिटल प्लेटफॉर्म को उपयोग करते हुए क्षेत्रीय सांसद, विधायक, पंचायती राज संस्था के सदस्य, शहरी स्थानीय निकाय, स्वास्थ्य कर्मियों एवं सिविल सोसायटी के सदस्य का सहयोग लेने की भी बात कही गयी है। साथ ही प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को शामिल करने के निर्देश दिए गए हैं।

दंपति सम्पर्क पखवाड़े में आयोजित होने वाली गतिविधियाँ:
दंपति संपर्क पखवाडा का आयोजन 27 जून से 10 जुलाई तक होगा। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए पखवाड़े को सफल बनाने के उद्देश्य से जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग के साथ अन्य संबंधित विभाग जैसे आईसीडीएस, समाज कल्याण विभाग, पंचायती राज विभाग, जीविका, महादलित विकास मिशन के जिलास्तरीय पदाधिकारियों के साथ बैठक आयोजित करने के निर्देश दिए गए हैं ताकि उनसे नियमित सहयोग प्राप्त हो सके। प्रखंड स्तरीय पदाधिकारियों को पखवाड़ा के आयोजन संबंधी सूचना एवं उनके क्षमतावर्धन के लिए वीडियो कांफ्रेंसिंग के आयोजन कराने की भी सलाह दी गयी है। इस दौरान योग्य दंपतियों से संपर्क कर उनका पूर्व पंजीयन कराने पर जोर देने की बात कही गयी है। पंजीयन के दौरान अस्थायी सेवा यथा माला एन, छाया, आपातकालीन गर्भनिरोधक गोली अथवा कंडोम तत्काल उपलब्ध कराने का भी निर्देश दिया गया है। आशा एवं एएनएम को इच्छुक लाभार्थियों को महिला एवं पुरुष नसबंदी की सेवा प्रदान करने के लिए उनका पंजीयन कराने के साथ उन्हें निर्धारित दिन पर आमंत्रित करने एवं योग्य इच्छुक दंपतियों को परिवार नियोजन की अस्थायी सेवा( कॉपर टी, अंतरा इंजेक्शन इत्यादि) प्रदान करने के लिए उनकी पहचान करने के साथ नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर सेवा सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए गए हैं।

जनसंख्या स्थिरता पखवाड़े में परामर्श के साथ मिलेगी परिवार नियोजन की सुविधा:
जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा का आयोजन 11 जुलाई से 31 जुलाई तक किया जाना है। इस दौरान गर्भनिरोधक के बास्केट ऑफ चॉइस पर इच्छुक दंपतियों को परामर्श दिया जाएगा। इसके लिए सभी स्वास्थ्य संस्थानों में परामर्श पंजीयन केंद्र स्थापित करते हुए परिवार कल्याण परामर्शी, दक्ष स्टाफ नर्स/ एएनएम द्वारा परामर्श दिए जाने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा ओपीडी, एएनसी सेवा केंद्र, प्रसव कक्ष एवं टीकाकरण केंद्र पर भी कॉन्ट्रासेप्टिव डिस्प्ले ट्रे एवं प्रचार प्रसार सामग्रियों के माध्यम से परामर्श करते हुए इच्छुक लाभार्थी को परिवार नियोजन सेवा प्राप्त करने में सहयोग देने की बात भी कही गयी है। परामर्श पंजीयन केंद्र पूरे पखवाड़े के दौरान एवं आगे भी अस्थाई रूप से कार्य करेगा। इस दौरान मांग एवं खपत के अनुसार सभी सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों पर आवश्यक मात्रा में गर्भनिरोधक की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी एवं कंटेंटमेंट जोन के बाहर क्षेत्रों में सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करते हुए गर्भनिरोधक का वितरण किया जाएगा।

इन गतिविधियों पर होगा विशेष जोर:
जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़े के दौरान गर्भनिरोधक की मांग पर प्रत्येक लाभार्थी को 2 माह तक का अतिरिक्त इच्छित गर्भनिरोधक सामग्री उपलब्ध कराया जाएगा ताकि लाभार्थी को बार-बार गर्भनिरोधक प्राप्त करने हेतु केंद्र नहीं आना पड़े। कंडोम बॉक्स में नियमित रूप से कंडोम भरा जाएगा एवं प्रत्येक दिन नियमित अंतराल पर कीटाणु रहित डिसइन्फेक्ट किया जाएगा। अंतरा एवं आयुसीडी(कॉपर-टी) की सेवा शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर सहित स्वास्थ्य उप केंद्र तक स्वास्थ्य कार्यों में सुनिश्चित की जाएगी। साथ ही परिवार नियोजन ऑपरेशन हेतु शल्य कक्ष को पूरी तरह से इनफेक्शन प्रीवेंशन कंट्रोल गाइडलाइन के अनुसार तैयार किया जाएगा।

अपराधियो ने दिन दहारे एक और बरी घटना को दिया अंजाम,प्रसाशन अभी तक पकरने मे असफल

By | बिहार, राज्य | No Comments

अपराधियो ने दिन दहारे एक और बरी घटना को दिया अंजाम,प्रसाशन अभी तक पकरने मे असफल।

रिपोर्ट अमरेश कुमार।

विहार वैशाली जिला अन्तर्गत सराय थाना क्षेत्र मे अपराधियों ने हाजीपुर के सराय थाना के हाइवे पर स्थित फिनो पेमेंट्स बैंक से
दिनदहाड़े 3 लाख 50 हजार की लूट का अंजाम दी । सूचना पाकर मौके पर सदर एसडीपीओ राघव दयाल पहुंचे।बैंक के अंदर लगे सीसीटीवी फुटेज की छानबीन की जा रही है।घटना एनएच 22 के सराय सूरज चौक कि की है जो की सराय थाना से महज पांच सौ मीटर की दूरी पर स्थित है । बाइक सवार चार अपराधियों ने पूरी घटना को अंजाम दिया , बैंक के बाहर कई दुकानदारों ने लुटेरों का किया विरोध तो बदमाशों ने दहशत फैलाने के लिए कई राउंड गोलियां चलाई । मौके से कई खोका भी किया गया बरामद । लगातार कई थाने की पुलिस सहित सदर एसडीपीओ दलबल के साथ मौके पर पहुंचकर मामले की जांच कर रहे

ट्रोवेन्ट कम्पनी के अधिकारियों तथा प्रोपराइटर विकास कुमार ने आचार्य जी के वैदिक मंत्रों उचारण के साथ हाऊस होल्ड प्रोडक्ट्स की होलसेलर फीता काट कर किया उदघाटन ।

By | बिहार, राज्य | No Comments

ट्रोवेन्ट कम्पनी के अधिकारियों तथा प्रोपराइटर विकास कुमार ने आचार्य जी के वैदिक मंत्रों उचारण के साथ हाऊस होल्ड प्रोडक्ट्स की होलसेलर फीता काट कर किया उदघाटन ।

रिपोर्ट:- मो० मिन्नतुल्लाह

मोतिहारी/रक्सौल : शहर के कोईरियाटोला सैनिक रोड में स्थित प्रगति नगर में समृद्धि ट्रेडर्स ” ट्रोवेन्ट ” हाऊस होल्ड प्रोडक्ट्स का होलसेलर का उद्घाटन किया गया. इस दौरान बिहार की राजधानी पटना से ट्रोवेन्ट कम्पनी के राजन राज, रिजनल सेल्स हेड, हिन्दू सिंह सीएनएफ, विक्रम कुमार स्टेट हेड, विकास गुप्ता असिस्टेंट मैनेजर आदि उपस्थित हुए. कम्पनी के अधिकारियों तथा प्रोपराइटर विकास कुमार ने आचार्य जी के वैदिक मंत्रों उचारण के साथ फीता काट कर उदघाटन किया. तदोपरांत प्रो. विकास कुमार को कम्पनी के तरफ से सिल्वर का भगवान की मूर्ति देकर सम्मानित किया. इसके साथ ही मौके पर उपस्थित पोल्मबर मिस्त्री लोगों के बीच कम्पनी के अधिकारियों ने प्रोडक्ट की गुणवत्ता के बारे में भी चर्चा की. सभी को ट्रोवेन्ट कम्पनी के कुछ सामाग्री देकर सम्मानित किया गया. इस दौरान प्रो. विकास ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि हमारी पहली प्राथमिकता रिटेलर लोगों को बेतरह से बेहतर सेवा देना. मौके पर उपस्थित लोगों ने कहा कि ट्रोवेन्ट का होलसेल रक्सौल में होने से बहुत कुछ व समय की बचत हो सकती है. मौके पर मौजीलाल, राकेश सिंह, असलम अंसारी सहित अन्य लोग उपस्थित थे.