Breaking News

उत्तर प्रेदश:- योगी जी की विकास की राहें अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है !
उत्तर प्रेदश:- रंगरलियां मना रहे दो जोड़ो की हुई जमकर पिटाई
देश:- प्रधानमंत्री ने कहा कि सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण विधेयक एक ऐतिहासिक कदम है जो गरीबों के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है
देश:- स्वच्छ भारत मिशन खुले में शौच से मुक्त भारत के लक्ष्य प्राप्ति की ओर
देश:- मेघालय में पहली ‘स्वदेश दर्शन’ परियोजना का उद्घाटन
देश:- रेल संरक्षा में भारत-जापान सहयोग के लिए रेलमंत्रालय ने चर्चा रिकॉर्ड पर हस्‍ताक्षर किये |
All Posts By

post feeder

राजद के पूर्व मंत्री स्वर्गीय तुलसीदास मेहता के पुत्र एवं वर्तमान राजद विधायक आलोक कुमार मेहता के छोटे भाई अविनाश कुमार मेहता की लंबी बीमारी के कारण दिल्ली में हुआ निधन ।।

By | बिहार, राज्य | No Comments

राजद के पूर्व मंत्री स्वर्गीय तुलसीदास मेहता के पुत्र एवं वर्तमान राजद विधायक आलोक कुमार मेहता के छोटे भाई अविनाश कुमार मेहता की लंबी बीमारी के कारण दिल्ली में हुआ निधन ।।

रिपोर्ट: नसीम रब्बानी।

वैशाली जिला अंतर्गत महुआ प्रखंड के मिर्ज़नगर निवासी पूर्व मंत्री स्वर्गीय तुलसीदास मेहता के पुत्र एवं पूर्व राजद सांसद आलोक मेहता के छोटे भाई अविनाश मेहता का लंबी बीमारी से जूझते हुए दिल्ली में हुआ निधन। खबर आते ही दौड़ी शोक की लहर। बिहार की राजनीति में अपनी दमदार छवि से प्रसिद्ध रहे बिहार सरकार के पूर्व मंत्री स्वर्गीय तुलसीदास मेहता के पुत्र एवं पूर्व मंत्री व उजियारपुर के वर्तमान राजद विधायक आलोक कुमार मेहता के छोटे भाई अविनाश कुमार मेहता की दिल्ली में निधन हो गई। वह किडनी संबंधी बीमारी के कारण लंबे समय से बीमार चल रहे थे । जानकारी के अनुसार उनके किडनी का भी प्रत्यारोपण किया गया था लेकिन उसमें सफलता न मिल सकी । आखिर में मौत के आगे अपने जीवन के जंग से हार गए ।बताया जाता है अविनाश मेहता मृदुल स्वभाव के थे, उन्हें राजनीति की छल प्रपंच कलाओं का ज्ञान नके बराबर थे । हलाकी एक बड़े राजनीतिक घराने से तालुकात रखते थे ।2005 के विधानसभा चुनाव में कार्यकर्ताओं के दिल को खुश करने के लिए जंदाहा विधानसभा से चुनाव जदयू प्रत्याशी के रूप में लड़ा था। लेकिन उसमें सफलता न मिल सकी। तब से अपने को राजनीति से हमेशा दूर ही रखा। उनके जाने का गम उनके चाहने वालों को एक बहुत बड़ा सदमा दे गया । उनके परिवार में पत्नी दो पुत्री एक पुत्र है, जिन्हें समय की दौर ने बड़ा ही झटका दे गया। पिछले वर्ष ही स्वर्गीय तुलसीदास मेहता जी का निधन हुआ था, तब भी वे बीमार चल रहे थे ।उसके बाद से वे हमेशा दिल्ली निजी अस्पतालों में अपने को इलाज रत रखा लेकिन सफलता न मिल सकी। निधन की खबर पर तमाम समाजिक ,राजनीतिक ,बुद्धिजीवी ने अपनी संवेदना व्यक्त की है। संवेदना व्यक्त करने वालों में राजद प्रदेश महासचिव पंछिलाल राय, देव कुमार चौरसिया, वैशाली जिला अध्यक्ष बैधनाथ सिंह चंदवंसी ,राष्ट्रीय जनता दल के महुआ प्रखंड अध्यक्ष मोहम्मद नसीम रब्बानी, प्रदीप यादव,कृष्ण कुमार भार्गव, रमाशंकर यादव, संजय पासवान ,बड़े लाल यादव,पारसनाथ सिंह, मुन्ना सरकार मुखिया, संजीत कुमार राय मुखिया संघ अध्यक्ष, जनता दल यू प्रखंड अध्यक्ष उमेश कुमार सिंह ,राष्ट्रीय लोक समता पार्टी प्रखंड अध्यक्ष अकील देव सिंह, उमेश कुशवाहा, मनोज कुमार राय, सुधीर मालाकार, टेक नारायण सिंह, लोजपा के मनीष कुमार यादव श्रीकांत पासवान मनोज कुमार सिंह सहित सैकड़ों लोगों ने विनम्र श्रद्धांजलि दी ।

पटना: धूमधाम से मनाया गया न्यू पटना सेन्ट्रल स्कूल का वार्षिकोत्सव……

By | बिहार, राज्य | No Comments

पटना: धूमधाम से मनाया गया न्यू पटना सेन्ट्रल स्कूल का वार्षिकोत्सव……

रिपोर्ट: नसीम रब्बानी/सनोवर खान

पटना : राजधानी पटना के प्रतिष्ठित न्यू पटना सेन्ट्रल
स्कूल का 10 वां वार्षिकोत्सव आज धूमधाम के साथ मनाया गया। राजधानी पटना के इंदिरा नगर स्थित न्यू पटना सेन्ट्रल स्कूल का वार्षिकोत्सव धूमधाम के साथ मनाया गया। वार्षिकोत्सव कार्यक्रम का उद्घाटन स्कूल की प्राचार्या रंभा दुबे, डायरेक्टर कमल किशोर दुबे, श्री नवीन कुमार दास, मुकेश कुमार वर्मा, श्रीमती पुष्पा त्रिपाठी, डॉ बी एन यादव, रेड रती के डायरेक्टर मास्टर उज्जवल, पार्श्वगायिका अपूर्वा प्रियदर्शी ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया। इसके बाद स्कूल प्रबंधन की ओर से आगंतुक अतिथियों को बुके और मोंमेंटो देकर सम्मानित किया गया। वार्षिकोत्सव कार्यक्रम में बच्चों ने नृत्य, गायन एवं सामूहिक नृत्य प्रस्तुत कर लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। मंच का सफल संचालन जाने माने एंकर रंजीत कुमार ने किया। कार्यक्रम के दौरान अपूर्वा प्रियदर्शी ने अपनी मधुर आवाज से लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। वहीं टिवंकल कुमारी ने रंगोली मारो ढोलना गाने पर डांस प्रस्तुत कर लोगों का दिल जीत लिया।

कार्यक्रम में सर्वप्रथम बच्चों ने अतिथियों के आगमन पर स्वागत गीत प्रस्तुत किया तथा बच्चों द्वारा सरस्वती वंदना प्रस्तुत की गई।स्कूल की प्राचार्य रंभा दुबे ने सभी बच्चों के कार्यक्रम की प्रशंसा की एवं सभी अभिभावकों को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि स्कूल शैक्षणिक गतिविधियों के साथ बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए काम कर रहा है। इसी क्रम में
बच्चों को स्कूल में डांस खेल एवं अन्य गतिविधियों में व्यस्त रख उनके व्यक्तित्व का विकास किया जा रहा है।शिक्षा सबके लिए जरुरी है। पढ़ाई के साथ-साथ अन्य विधाओं में भी पारंगत होना चाहिए। तभी बच्चे पढ़ाई को बोझ नहीं समझेंगे एवं उनके प्रतिभा में निखार आयेगा। विद्यालय में शैक्षणिक व्यवस्था कायम रखने के लिए कई अहम विकास की कार्य की गई है। जिससे बच्चों के साथ-साथ शिक्षकों को भी लाभ मिल रहा है।

बिहार: माध्यमिक-उच्च माध्यमिक स्कूलों के 40 हजार शिक्षक 25 से जाएंगे हड़ताल पर।

By | बिहार, राज्य | No Comments

बिहार: माध्यमिक-उच्च माध्यमिक स्कूलों के 40 हजार शिक्षक 25 से जाएंगे हड़ताल पर।

सनोवर खान ब्यूरो रिपोर्ट के साथ नसीम रब्बानी की रिपोर्ट

पटना:प्रदेश के करीब छह हजार माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्कूलों में 25 फरवरी से तालाबंदी होगी। इन स्कूलों के करीब 40 हजार हाईस्कूल व प्लसटू शिक्षक हड़ताल पर जायेंगे। रविवार को बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष केदारनाथ पांडेय व महासचिव शत्रुघ्न प्रसाद सिंह ने 25 से विद्यालयों में तालाबंदी और अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा प्रेस कांफ्रेंस के माध्यम से की। सातवां पुनरीक्षित वेतनमान और सेवाशर्त समेत अन्य लंबित मांगों को लेकर हड़ताल पर जाने की घोषणा की गयी है। 

गौरतलब है कि राज्य के प्रारंभिक विद्यालयों के नियोजित शिक्षक 17 फरवरी से ही हड़ताल पर हैं। अब हाईस्कूल व प्लसटू शिक्षकों की हड़ताल से 26 तारीख से होने वाले इंटर की कापियों के मूल्यांकन पर भी इसका व्यापक असर पड़ सकता है। अगर बात नहीं बनी तो 5 मार्च से मैट्रिक की कापियों का मूल्यांकन कार्य भी बाधित हो सकता है। 
रविवार को माध्यमिक शिक्षक संघ भवन में प्रेसवार्ता के दौरान महासचिब शत्रुघ्न प्रसाद सिंह ने घोषिणा की कि शिक्षक जनगणना, पशुगणना, मूल्यांकन समेत कोई भी सरकारी कार्य नहीं करेंगे। आरोप लगाया कि इस हड़ताल के लिए राज्य सरकार को पूरी तरह से जिम्मेवार है। मुख्यमंत्री से लेकर शिक्षा मंत्री और विभाग के अपर मुख्य सचिव तक को 15 पत्र दिया गया लेकिन सरकार ने वार्ता तक की पहल नहीं की। संघ के अध्यक्ष केदारनाथ पांडेय ने हमारे आंदोलन का 50 विधायकों ने समर्थन किया है। संघ को पत्र लिखकर समर्थन देने वालों में कई विधायक सत्ता पक्ष के भी हैं। नेताद्वय ने कहा कि वे नियोजित शिक्षकों की हड़ताल के मद्देनजर सरकार द्वारा की गयी दमनात्मक कार्रवाई का भी पुरजोर विरोध करते हैं।

वैशाली: सोन्धो के हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर की फैल रही सोंधी खुशबू ,सालों से झोपड़ी में कैद थी स्वास्थ्य सेवाएं …..

By | बिहार, राज्य | No Comments

वैशाली: सोन्धो के हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर की फैल रही सोंधी खुशबू ,सालों से झोपड़ी में कैद थी स्वास्थ्य सेवाएं …..

रिपोर्ट: नसीम रब्बानी।……

-गोरौल प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी की चाह ने बदली राह
-निजी अस्पतालों को दे रही टक्कर
वैशाली: अपने नाम सोंन्धो की तरह पूरे जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं की सोंधी खुशबू फैला रही है, सोंधो हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर। कभी यह जगह गांव वालों के लिए मवेशी चराने के काम आती थी. बच्चे भी यहाँ आने से कतराते थे. पर आज यह उस स्थिति में है जिसके सामने शहर के कुछ प्राईवेट अस्पताल भी कमतर हैं. करीब पांच हजार स्कावयर फुट में बने इस हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर का निर्माण 2018 में हुआ था। वहीं इसका कुल भूखंड करीब डेढ़ एकड़ में फैला है। जिसमें चिकित्सकों के लिए अत्याधुनिक शैली में क्वार्टर भी बने हैं। इस केंद्र की भव्यता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि पूरे जिले ने मौजूदा 19 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में से इसे सबसे आधुनिक साज सज्जा से युक्त माना है।
हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के बारे में बरेबा, सोन्धो के सुकुल पासवान कहते हैं यह अपना ही गांव देखकर यकीन आते हैं. पहले यहां न ही भवन था और न ही संसाधन। मामूली बीमारी के लिए भी 10 किलोमीटर दूर प्राइवेट अस्पतालों पर निर्भर रहना पड़ता था। अब तो हमें सारी सुविधाएं इसी हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर उपलब्ध हो जाती है।
आसान नहीं था सफर
गोरौल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. एसके गुप्ता कहते हैं, जब इसे हमें हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में तब्दील करना था। तो मेरे सामने सबसे बड़ी चुनौती थी वहां से अतिक्रमण को हटाना और यह सुनिश्चित करना कि हम यहां के निवासियों को सबसे बेहतर स्वाथ्य सुविधाएं दें। सारी व्यवस्था को पारदर्शी रख मैंने प्रतिदिन काम में प्रगति का हिसाब लिया। तब कहीं जाकर यह मॉडल केंद्र के निर्माण की राह आसान हो पाई.
ओपीडी में प्रतिदिन आते हैं 150 मरीज
गोरौल प्राथमिक स्वास्थ्य की बीएचएम रेणु कुमारी कहती हैं कि पहले जब यह स्वास्थ्य उपकेंद्र था तो मुष्किल से 20 से 25 मरीज ही यहां ईलाज को आ पाते थे। वहीं जब से यहां इंफ्रास्ट्रक्चर और सुविधाएं उपलब्ध हुई हैं। प्रतिदिन करीब 150 के मरीज ओपीडी में आते हैं। जिनके लिए अलग से पंजीकरण काउंटर भी है। अभी यहां मौजूद चिकित्सकों में एक आयुष, एक एलोपैथ और एक दंत चिकित्सक मौजूद हैं।

हर तरह की जरुरी जांच है उपलब्ध
इस हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में अलग से लैब टेकनिसियन और साफ और स्वच्छ कमरा मौजूद हैं। जहां मरीजों को उच्च-रक्तचाप, मधुमेह, प्रेगनेंसी टेस्ट, मलेरिया, एचआईवी, कालाजार जैसे गैर-संचारी रोग के जांच की व्यवस्था है। वहीं यहां पर चार तरह के सीबीसी की जांच की भी व्यवस्था है। जो बिल्कुल ही मुफ्त है। यहां पर अलग से टीवी के बलगम की जांच की भी सुविधा है। जिसे जांच के लिए पीएचसी भेजा जाता हैै। इस केंद्र में कैंसर रोग के स्क्रीनिंग की भी व्यवस्था है। जिसे अनुभवी चिकित्सकों द्वारा किया जाता है।
50 तरह की उपयोगी दवाएं हैं मौजूद:
इस केंद्र में 50 तरह की दवाएं मौजूद हैं। जिसमें 35 जरुरी दवाओं की श्रेणी में आते हैं। जिनका प्रबंधन बिल्कुल ही साफ और हवादार कमरे में किया गया है। सभी दवाओं को जमीन और दीवार के संपर्क से दूर रखने की कोषिष की गयी है ताकि इन पर नमी और तापमान का असर न हो। वहीं कंम्प्यूटर में डेटा रखने से एक्सपायर दवाओं को तुरंत ही स्टॉक से हटा लिया जाता है।
परिवार नियोजन और प्रसव पूर्व जाँच की व्यवस्था
केंद्र में प्रवेश करते ही बांयी तरफ परिवार नियोजन के लिए अलग कार्नर है। जिसमें अंतरा, छाया, कॉपर टी के बारे में हेल्थ वर्कर बताती हैं। उसी जगह कंडोम के बॉक्स उपलब्ध कराया गया है। यह सभी सुविधाएं भी निःषुल्क है। वहीं इस केंद्र पर गर्भस्थ महिलाओं के प्रसव पूर्व देखभाल की भी व्यवस्था है। यहां पर लेबर रुम और स्ट्रेलाइजेषन रुम की बेहतरीन व्यवस्था है। बस इंतजार है उस निर्णय का जब यहां प्रसव की व्यवस्था उपलब्ध होगी।

*बाबा खगेश्वरनाथ धाम मतलुपुर में उमड़ा भक्तों का जनसैलाब,*50 हजार से ऊपर श्रद्धालुओं ने किया जलाभिषेक*

By | बिहार, राज्य | No Comments

*बाबा खगेश्वरनाथ धाम मतलुपुर में उमड़ा भक्तों का

जनसैलाब,*50 हजार से ऊपर श्रद्धालुओं ने किया जलाभिषेक*

रिपोर्ट: नसीम रब्बानी।

बिहार: मुजफ्फरपुर जिला अंतर्गत बंदरा प्रखंड के मतलुपुर स्तिथ अतिप्राचीन बाबा खगेश्वरनाथ महादेव मंदिर में महाशिवरात्रि के शुभ अवसर पर जलाभिषेक को लेकर श्रद्धालु भक्तों का जनसैलाब उमड़ पड़ा। मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, वैशाली, दरभंगा जिलें के विभिन्न क्षेत्रों से आये लगभग 50 हजार से ऊपर श्रद्धालुओं ने बाबा का जलाभिषेक कर पूजा-अर्चना किया। अहले सुबह करीब 2 बजे से ही भक्तों का जमावड़ा बाबा के दरबार में जुटने लगा, जिसको नियंत्रित करने में स्वयंसेवकों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। श्रद्धालुओं को जलाभिषेक में परेशानी न हो, इसलिए मंदिर न्यास समिति द्वारा समुचित व्यवस्था मुहैया कराई गयी।

मंदिर परिसर में राम नाम धून अष्टयाम, सत्यनारायण पूजा, मुंडन, उपनयन भी किया गया। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर दंडाधिकारी आशुतोष कुमार एवं धीरेन्द्र कुमार के नेतृत्व में पियर थाना एवं हत्था ओपी की पुलिस के साथ स्वयंसेवक एवं महाशिवरात्रि मेला सहयोगी सेवा मित्र चुस्त-दुरुस्त दिखे। वही स्वास्थ व्यवस्था को लेकर बंदरा पीएचसी के डॉक्टर दीपक सिद्धार्थ अपनी पूरी टीम के साथ मौजूद थे।

इस मौके पर मंदिर न्यास समिति एवं महाशिवरात्रि मेला सहयोगी सेवा समिति के पारसनाथ त्रिवेदी, रामकुमार त्रिवेदी, रामसकल कुमार, रामदेव सहनी, सुरेश राय, झगरू राय, श्याम सहनी, रामनाथ सहनी, वीरेंद्र पासवान, अनमोल झा, रत्नेश ठाकुर, राकेश त्रिवेदी, चंदन कुमार, दिलीप सहनी, सुखेन्द्र पासवान, जितेंद्र सहनी, पवन ठाकुर, रमेश प्रसाद, अशेसर राय, रंजीत ठाकुर सक्रिय भूमिका निभाया।।

हर हर महादेव कि जय घोष से गुजंयमान हुआ जीरादेई*

By | बिहार, राज्य | No Comments

*हर हर महादेव कि जय घोष से गुजंयमान हुआ जीरादेई*

*आदित्य कुमार सिंह/ जीरादेई*

*सिवान/जीरादेई*:-प्रखंड के रामजानकी मंदिर परिसर जामापुर मे शुक्रावार को अहले सुबह से ही महाशिवरात्री को लेकर श्रद्धालुओ का हुजुम उमड़ पड़ा । मंदिर का पट खुलते ही शिव भक्तो कि लंबी कतार लगी जो अनवरत चलती रही। मंदिर के पुजारी रामसुन्दर दास त्यागी ने बताया कि जामापुर के इस शिव मंदिर मे ज्यादा भीड़ होने का मुख्य कारण भगवान शिव कि असिम कृपा है और लोगो मे आस्था है । इस मंदिर मे लगभग जीरादेई,जामापुर,पथारदेई,भैसाखाल,बंगरा आदी गॉवो के लोग जलाभिषेक करने कर लिए पहुचते है । वही ग्रामिण महिला किरण देवी,धिरज देवी के नेतृत्व मे सांय शिव चर्चा और शिव विवाह का भी आयोजन किया गया । जिसमे स्थानीय महिलाओ ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया । *जागी महादेव हो जगा दी महादेव* जैसे गितो से पुरा गॉव भक्तीमय हो गया ।
इस मौके अनुराधा देवी,प्रिया देवी,सरिता देवी,राजकुमारी देवी समेत तमतमाम ग्रामिण महिला मौजूद थी ।

पातेपुर: शवयात्रा एवं दाह संस्कार हुआ संपन्न।

By | बिहार, राज्य | No Comments

पातेपुर: शवयात्रा एवं दाह संस्कार हुआ संपन्न।

रिपोर्ट: गौरव कुमार।

वैशाली जिला अन्तर्गत पातेपुर प्रखंड के अजिजपुर चांदे के ग्राम कचहरी सचिव श्रवण कुमार पासवान‌ के पिताजी का शवयात्रा एवं दाह संस्कार आज संपन्न हुआ। जिसमें‌ जिलाध्यक्ष तरूण कुमार तरूण,प्रखंड अध्यक्ष भानु प्रताप एवं प्रखंड के अन्य ग्राम कचहरी सचिव शामिल हुए । इस संबंध‌ में‌ प्रदेश‌ प्रवक्ता कुमार गौरव ने बताया कि सभी साथियों में प्रियजन की मृत्यू का शोक व्याप्त है और मृतात्मा की परम शांति हेतु परमात्मा से हम सभी ग्राम कचहरी सचिव हार्दिक प्रार्थना करते हैं । साथ हीं श्रवणजी एवं उनके प्रियजनों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करते हैं । संघ द्वारा प्रखंड प्रशासन को सूचित किया गया है तथा श्रवण जी के आकस्मिक अवकाश की स्वीकृति की मांग की गयी है ।

शहीद जवानों के सम्मान में राज्य सरकार की ओर से पुलिस मुख्यालय भवन में एक स्मारक स्थल बनाया जाएगा:- मुख्यमंत्री

By | बिहार, राज्य | No Comments

शहीद जवानों के सम्मान में राज्य सरकार की ओर से पुलिस मुख्यालय भवन में एक स्मारक स्थल बनाया जाएगा:- मुख्यमंत्री


SKK न्यूज पटना

पटना 21 फरवरी 2020:- मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने आज ‘एक शाम शहीदों के नाम’ कार्यक्रम का दीप प्रज्ज्वलित कर उद्घाटन किया। नूतन चर्चा मासिक पत्रिका द्वारा श्री.ष्ण मेमोरियल हॉल में आयोजित इस कार्यक्रम में आयोजकों ने मुख्यमंत्री को पुष्प-गुच्छ एवं अंगवस्त्र भेंटकर उनका अभिनन्दन किया। मुख्यमंत्री ने कुल 15 शहीदों के परिजनों को स्मृति चिन्ह, चेक एवं अंगवस्त्र प्रदान कर उन्हें सम्मानित किया। बिहार पुलिस के सात, सी0आर0पी0एफ0 के तीन और सी0आई0एस0एफ0 के पाॅच शहीदों के परिजनों को मुख्यमंत्री ने सम्मानित किया।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने आयोजकों का अभिनंदन करते हुये कहा कि यह बहुत ही अच्छा काम शुरू हुआ है। 2016 से ही यह कार्यक्रम निरंतर आगे बढ़ रहा है, यह बहुत अच्छी बात है। इस कार्यक्रम का आयोजन बहुत ही बेहतर तरीके से किया गया है। ऐसे कार्यक्रमों के जरिये हम शहीदों को याद कर उनके परिजनों को सम्मानित करते हैं। शहीदों एवं उनके परिजनों के प्रति हम सभी को सदैव मन में श्रद्धा का भाव रखना चाहिए। भारतीय सेना या राज्य पुलिस के जवान अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए अगर शहीद हो जाते हैं तो हमें उनका स्मरण करना चाहिए। आज महाशिवरात्रि का दिन है, बावजूद इसके शहीदों के सम्मान में बड़ी तादाद में लोग इस कार्यक्रम में उपस्थित हुए हैं, यह प्रसन्नता की बात है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में पुलिस मुख्यालय भवन ऐसा बना है कि वैसा शायद ही देश में कहीं होगा। पुलिस मुख्यालय भवन का नाम सरदार बल्लभ भाई पटेल के नाम पर रखा गया है। यह ऐसा भवन बना है जो 9 रिक्टर स्केल पर भूकम्प आने पर भी नहीं गिरेगा। हमलोग जल-जीवन-हरियाली अभियान चलाकर पर्यावरण प्रति भी लोगों को जागरूक कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बिहार पुलिस के शहीद जवानों का नाम पुलिस मुख्यालय भवन में लिखा गया है और आगे भी लिखा जाएगा। हम जहाँ कहीं भी जाते हैं, सी0आई0एस0एफ0 में अधिकांशतः बिहार के लोग ही देखने को मिलते हैं, इससे हमें काफी खुशी होती है। सी0आर0पी0एफ0 के बिना भी कोई काम नहीं चलने वाला है। बिहार में सी0आर0पी0एफ0 जवानों की संख्या कम न हो इसको लेकर हम केंद्र से बात करते रहते हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस के जवान जो शहीद होते है उनके सम्मान में राज्य सरकार की तरफ से पुलिस मुख्यालय भवन में या अनयत्र एक स्मारक स्थल बनाया जाएगा। इसके अलावा एक तिथि का भी निर्धारण किया जाएगा ताकि शहीदों के सम्मान में इस प्रकार का कार्यक्रम आयोजित किया जा सके। दानापुर कैन्टोमेंट में भी जाकर हमने देखा है, बहुत ही बेहतर ढंग से उसे बनाया गया है। उन्होंने कहा कि बिहार पुलिस के जवान आशीष कुमार सिंह, विश्वा उरांव, मुकेश कुमार सिंह, प्रभाकर राज, मिथिलेश कुमार साह, मो0 फारुख आलम और मालेश्वर राम ने अपराधियों से मुठभेड़ करते हुए अपना बलिदान दिया, जिन्हें कभी भुलाया नहीं जा सकता है। उन्होंने कहा कि शहीदों के परिजनों को किसी भी प्रकार के सहयोग या समर्थन की जरूरत होगी तो उसे सरकार द्वारा मदद दी जायेगी। शहीदों के परिवार को जो सम्मानित करेगा, उन्हें भी सम्मान अवश्य मिलेगा। उन्होंने कहा कि शहीदों को श्रद्धा निवेदित करते हुए उनके परिवारों के प्रति हम अपना आभार प्रकट करते हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि शराबबंदी को लेकर कुछ लोग हमारी आलोचना करते रहते हैं। होम डिलीवरी की बात करने वाले खुद पीने के चक्कर में लगे रहते हैं इसलिए ऐसे लोगों से सख्ती से निपटने की आवश्यकता है, इससे बिहार की प्रतिष्ठा बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि शराबबंदी को लेकर बिहार विधानसभा और विधान परिषद में एकमत से विधेयक पास हुआ और एक साथ खड़े होकर सभी ने संकल्प भी लिया लेकिन कुछ लोग इन बातों को शायद भूल चुके हैं। हमने शुरू से ही कहा है कि बिहार में पर्यटक सिर्फ शराब पीने के लिए नहीं आते हैं। शराबबंदी के बाद निरंतर हर वर्ष पर्यटकों की संख्या में बढ़ोत्तरी दर्ज हुई है। वर्ष 2019 में 3.5 करोड़ से भी ज्यादा पर्यटक बिहार आये। विदेशी पर्यटकों की संख्या बढ़कर 10 लाख 85 हजार के करीब हो गई है।
कार्यक्रम को बिहार विधानसभा अध्यक्ष श्री विजय कुमार चैधरी, बिहार विधान परिषद के कार्यकारी सभापति मो0 हारून रसीद, उद्योग मंत्री श्री श्याम रजक, विधान पार्षद श्री देवेश चन्द्र ठाकुर, पुलिस महानिदेशक श्री गुप्तेश्वर पाण्डेय, कन्फेडरेशन ऑफ रियल एस्टेट डेवलपमेंट ऑफ इंडिया के अध्यक्ष श्री मणिकांत एवं नूतन पत्रिका के सम्पादक श्री अभिषेक कुमार ने भी संबोधित किया।
इस अवसर पर बिहार उद्योग संघ के अध्यक्ष श्री रामलाल खेतान, मुख्यमंत्री के सचिव श्री अनुपम कुमार,केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के डी0आई0जी0 श्री डी0पी0 परिहार, केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के डी0आई0जी0 श्री मो0 हसनैन सहित शहीदों के सम्मानित किये गये परिजन, बिहार पुलिस, सी0आर0पी0एफ0 एवं सी0आई0एस0एफ0 के जवान सहित देश के अन्य हिस्सों से कवि सम्मेलन में शामिल होने आये कविगण उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री महाशिवरात्रि शोभा यात्रा के अभिनंदन महोत्सव में हुये शामिल

By | बिहार, राज्य | No Comments

मुख्यमंत्री महाशिवरात्रि शोभा यात्रा के अभिनंदन महोत्सव में हुये शामिल

SKK न्यूज़। पटना

पटना 21 फरवरी 2020:- मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने आज खाजपुरा बेली रोड स्थित शिव मंदिर के निकट महाशिवरात्रि शोभा यात्रा के अभिनंदन महोत्सव में सम्मिलित होकर भगवान भोलेनाथ और उनकी सवारी भगवान नंदी की आरती कर पूरे बिहार में सुख, समृद्धि एवं अमन चैन कायम रहने की कामना की। महाशिवरात्री महोत्सव के अवसर पर निकली शोभा यात्रा में शामिल संगठनों को प्रतीक चिन्ह भेंट कर मुख्यमंत्री ने स्वागत किया। महाशिवरात्री महोत्सव के आयोजकों ने मुख्यमंत्री को अंगवस्त्र एवं प्रतीक चिह्न भेंटकर अभिनन्दन किया। शोभा यात्रा में निकली भगवान भोलेनाथ की टोली का भव्य आरती और पुष्प वर्षा से स्वागत किया गया।
इस अवसर पर सिक्किम के राज्यपाल श्री गंगा प्रसाद, बिहार विधानसभा अध्यक्ष श्री विजय कुमार चैधरी, भाजपा सांसद डाॅ0 सी0पी0 ठाकुर, विधायक श्री संजीव चैरसिया, विधायक श्री नीतिन नवीन सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति एवं भारी संख्या में श्रद्धालू उपस्थित थे।

मदरसों के फोकल टीचर को दी गयी प्रशिक्षण।

By | बिहार, राज्य | No Comments

मदरसों के फोकल टीचर को दी गयी प्रशिक्षण।

सनोवर खान ब्यूरो रिपोर्ट

पटना:पटना जिला अंतर्गत पटना युथ होस्टल में राज्य स्तरीय मुख्यमंत्री विद्यालय सुरक्षा कार्यक्रम के अंतर्गत बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण एवं बिहार राज्य मदरसा शिक्षा बोर्ड के द्वारा मदरसों के फोकल शिक्षकों को दो दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया । जिसमें टीचर ट्रेनर अब्दुल राहिल मजहर ने कहा कि बिहार राज्य सरकार ,बिहार मदरसा बोर्ड,यूनिसेफ के तहत सारे मदरसों के लिए अफात मैनेजमेंट ट्रेनिंग के तहत मदरसों के फोकल शिक्षकों को आपदा से बचने के लिए दो दिवसीय प्रशिक्षण दिया जा रहा है। और इस पर प्रकाश डालते हुए मास्टर ट्रेनर अपराजिता कुमारी ने कहा है कि पूरे राज्य में बिहार राज्य एक ऐसा राज्य है जिसमें माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी द्वारा मुख्यमंत्री विद्यालय सुरक्षा कार्यक्रम के तहत मदरसों के फोकल टीचर को दो दिवसीय प्रशिक्षण दिया जा रहा है। माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी की बहुत ही अच्छी पहल है जिसने मदरसों के फोकल टीचरों के द्वारा अल्पसंख्यकों के बीच आपदा से संबंधित जागरूकता फैलेगी। मदरसों के फोकल टीचर को दो दिवसीय प्रशिक्षण दिए जाने से मदरसा के फोकल टीचर के बीच जागरूकता पैदा की जा रही है जिससे मदरसे के टीचर अपने मदरसे में जाकर अपने बच्चों को आने वाले आपदा से किस तरह से बचा जा सके ये बता सके।
मौके पर मास्टर ट्रेनर के रूप में अपराजिता कुमारी, रौशन आरा, अब्दुल राहिल मजहर एवं अन्य मास्टर के साथ मदरसों के फोकल टीचर भी मौजूद थे।