Breaking News

उत्तर प्रेदश:- योगी जी की विकास की राहें अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है !
उत्तर प्रेदश:- रंगरलियां मना रहे दो जोड़ो की हुई जमकर पिटाई
देश:- प्रधानमंत्री ने कहा कि सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण विधेयक एक ऐतिहासिक कदम है जो गरीबों के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है
देश:- स्वच्छ भारत मिशन खुले में शौच से मुक्त भारत के लक्ष्य प्राप्ति की ओर
देश:- मेघालय में पहली ‘स्वदेश दर्शन’ परियोजना का उद्घाटन
देश:- रेल संरक्षा में भारत-जापान सहयोग के लिए रेलमंत्रालय ने चर्चा रिकॉर्ड पर हस्‍ताक्षर किये |
All Posts By

post feeder

राजद से मकबूल अहमद शाहबाजपुरी को टिकट देने की मांग

By | बिहार | No Comments

राजद से मक़बूल अहमद शाहबजपुरी को टिकट देने की उठी मांग

रिपोर्ट: सनोवर खान- पटना

हाजीपुर वैशाली (नसीम रब्बानी) महुआ विधानसभा क्षेत्र से पातेपुर ब्लॉक के राजद अध्यक्ष मकबूल अहमद शाहबाजपुरी को राजद का उम्मीदवार बनाने को लेकर महुआ विधान सभा क्षेत्र से सिया लाल राय, पंकज कुमार, विरेन्द्र कुमार यादव, बक्सावां मखिया मोहम्मद हाशिम अंसारी, मुहम्मद साबिर अंसारी, मुहम्मद एजाज अंसारी, मौलाना कलीम चतुर्वेदी, मौलाना अब्दुल सलाम हनफ़ी, सहित अन्य गणमान्य लोगों ने राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव, तेजस्वी यादव और राजद के अन्य आला अधिकारियों से मांग की है। उन्होंने कहा कि महुआ विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र मुस्लिम बहुल क्षेत्र है। लोगों ने यह भी कहा कि वैशाली में आठ विधानसभा क्षेत्र हैं जिनमें कम से कम दो सिंटो पर मुस्लिम उम्मीदवार को दी जानी चाहिए। लेकिन पातेपुर विधान सभा सीट रिजर्व है, इस सूरत में महुआ एक सिट है जो मुसलमानों के लिए उपयुक्त है, यहां से राजद को चाहिए के एक मुस्लिम उम्मीदवार दे।

*مقبول احمد شہبازپوری کو راجد سے ٹکٹ دینے کا مطالبہ*

By | बिहार | No Comments

 

*مقبول احمد شہبازپوری کو راجد سے ٹکٹ دینے کا مطالبہ*  रिपोर्ट: सनोवर खान

حاجی پور – پاتے پور بلاک کے راجد صدر مقبول احمد شہبازپوری کو مہوا اسمبلی حلقہ سے راجد کا امیدوار بنانے کو لیکر سی یا لال راۓ۔ پنکج کمار۔ وریندر کمار یادو۔ بکساواں مکھیا محمد ہاشم انصاری۔ محمد صابر انصاری۔ محمد اعجاز انصاری۔ مولانا کلیم چترویدی۔ مولانا عبدالسلام حنفی۔ سمیت دیگر معزز شخصیات نے راجد کے قومی صدر لالو پرساد یادو تیجسوی یادو سمیت دیگر راجد کے اہم عہدیداران سے مانگ کی ہے۔ ان لوگوں نے کہا کہ مہوا اسمبلی حلقہ مسلم اکثریتی علاقہ ہے۔
لوگوں نے یہ بھی کہا کہ ویشالی میں آٹھ اسمبلی حلقہ ہے اس میں کم سے کم دو سیٹ تو مسلم امیدوار کو ملنی چاہیٸے جس میں مہوا اور پاتےپور دوایسی جگہ ہے جہاں مسلم بونٹ پچاس سے پچپن ہزار ہے جبکہ پاتےپور ریزرویشن میں ہے اس صورت میں مہوا ہی ایک ایسی سیٹ ہے جو مسلمانوں کے لیے مناسب ہے۔

ICDS निदेशक आलोक कुमार की अफसर शाही।

By | बिहार | No Comments

 

ICDS निदेशक आलोक कुमार की अफसर शाही।          रिपोर्ट: रमेश झा

पटना: दिनांक 25/10/2020 को मिली जानकारी के सूत्रों के अनुसार पता चला है कि ICDS निदेशक आलोक कुमार ने तीन घंटे बैठाने के बाद पत्रकारों से मिलने से किया इनकार। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पता चला कि अररिया जिला प्रखंड =भरगामा` पंचायत= जयनगर वार्ड नो0 09 की चयन में मिली भगत है आँगन बारी सेविका चयन को लेकर पत्रकार से मिलने से किया इनकार बिहार सरकार के आदेशों का किया जा रहा है अभहेलना।

special copr bihar jagdoot news 9117262844 रमेश झा

फाईलेरिया की दवा एमडीए सेवन कार्यक्रम को सफल बनाएं : डॉ इंद्रदेव रंजन

By | बिहार | No Comments

 

‌‌‌रिपोर्ट:नसीम रब्बानी, विशेष संवाददाता-बिहार

फाईलेरिया की दवा एमडीए सेवन कार्यक्रम को सफल बनाएं : डॉ इंद्रदेव रंजन
– सर्वजन दवा कार्यक्रम में केयर करेगी तकनीकी सहायता
– दो वर्ष से नीचे गर्भवती महिलाएं एवं गंभीर रोग से ग्रसित लोगों को नहीं खिलायी जाएगी दवा

वैशाली। 25 सितंबर

आपने सुना होगा कि किसी का पैर हांथी जैसा हो गया है या किसी के हाइड्रोसील बड़ा हो गया है। यह रोग ही फाइलेरिया कहलाता है। हांथीपांव के मरीज को ठीक तो नहीं किया जा सकता पर इसे फैलने से रोका जा सकता है। जिसने भी पांच साल यह दवा खा ली उसे कभी भी फाइलेरिया संबंधी बीमारी नहीं हो सकती। 28 सितंबर से 11 सितंबर तक 14 दिन आशा के द्वारा प्रत्येक घरों में खिलाई जाएंगी। ये बातें सिविल सर्जन डॉ इंद्रदेव रंजन ने उद्घाटन करते हुए कहा। मौका था जिला स्वास्थ्य समिति, सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च, पीसीआई तथा केयर वैशाली के तत्तवाधान में शुक्रवार को सदर अस्पताल स्थित सभागार में मीडिया कार्यशाला का। इस मौके पर जिला भीबीडीसी पदाधिकारी डॉ सत्येन्द्र प्रसाद सिंह ने कहा कि सर्वजन दवा के कार्यक्रम के सफलतापूर्वक संचालन के लिए आशा प्रत्येक घर का भ्रमण करेगीं। वह नित्यदिन 50 घरों को जाएगीं। इसके लिए प्रखंड स्तर पर टीम तैयार कर ली गयी है। एक टीम में दो आशा रहेगीं। दवा की पर्याप्त मात्रा सभी सरकारी अस्पतालों में उपलब्ध है। दो वर्ष से नीचे गर्भवती महिलाएं एवं गंभीर रोग से ग्रसित लोगों को नहीं खिलायी जाएगी दवा। सभी प्रखंडों में टास्क फोर्स एवं कोओर्डिनेशन कमिटी का गठन किया जा चुका है। जिला एवं प्रखंड स्तर पर चिकित्सकीय आपात से निपटने के लिए रैपिड रेस्पांस टीम का गठन किया गया है।

हर उम्र के लोगों के लिए अलग खुराक
इस मौके पर डब्ल्यूएचओ के स्टेट एनटीडी कोओर्डिनेटर डॉ राजेश पांडेय ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि सर्वजन दवा कार्यक्रम को सफल बनाने में मीडिया की भूमिका महत्वपूर्ण है। आपके जरिए लोगों तक फाइलेरिया के बारे में सूचना पहुंचे । लोग जागरुक हों, तभी इस कार्यक्रम को सफल बनाया जा सकता है। फाइलेरिया दुनिया भर में दीर्घकालिक विकलांगता के प्रमुख कारणों में से एक है। आमतौर पर बचपन में होने वाला यह संक्रमण लिम्फैटिक सिस्टम को नुकसान पहुंचाता है और अगर इसका इलाज न किया जाए तो इससे शारीरिक अंगों में असामान्य सूजन होती है और समाजिक दंश भी झेलना पड़ता है। फाइलेरिया से जुड़ी विकलांगता जैसे लिंफोइडिमा (हांथीपांव) और हाइड्रोसील (अंडकोष की थैली में सूजन) के कारण पीड़ित लोगों को अक्सर सामाजिक बोझ सहना पड़ता है, जिससे उनकी आजीविका व काम करने की क्षमता भी प्रभावित होती है। यह एक घातक रोग है जिससे पांच वर्षों तक साल में एक बार दवा सेवन कर बचा जा सकता है.इस अभियान में डीईसी एवं एलबेंडाजोल की गोलियाँ लोगों की दी जाएगी। 2 से 5 वर्ष तक के बच्चों को डीईसी की एक गोली एवं एलबेंडाजोल की एक गोली, 6 से 14 वर्ष तक के बच्चों को डीईसी की दो गोली एवं एलबेंडाजोल की एक गोली एवं 15 वर्ष से अधिक लोगों को डीईसी की तीन गोली एवं एलबेंडाजोल की एक गोली दी जाएगी। एलबेंडाजोल का सेवन चबाकर किया जाना है इस कार्यक्रम की सफलता तभी सफल होगी जब मौके पर आशा द्वारा दिया गया दवा की खुराक खुद से लें। 14 कार्य दिवस में चलाए जा रहे इस कार्यक्रम में 7 वें और 14 वें दिन आशा री विजिट करेगीं। जिनमें छूटे हुए लेागों को दवा खिलाया जाएगा।

कटोरी मेथड से आशा खिलाएंगी गोली
कोविड के संक्रमण को ध्यान में रखते हुए इस बार आशा लोगों के घरों में जाएंगी और उनके घर में उम्र के अनुसार गोलियों को उनके कटोरे में डाल देंगी और सामने में वह दवा खिलवाएंगी। वह एलवेंडा जोल की गोली को चबा कर खाने के लिए भी प्रोत्साहित करेगीं।

कोविड मानकों का रखा जाएगा ख्याल
डॉ सत्येन्द्र ने बताया कि फाइलेरिया उन्मूलन के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए एमडीए के महत्व को ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने कोविड वैश्विक महामारी के दौरान भी एमडीए कार्यक्रम संपन्न कराने का निर्णय लिया है। उन्होंने कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए सभी सुरक्षा सावधानियों (स्वच्छता, मास्क और शारीरिक दूरी) को अपनाने के महत्व पर बल दिया है। मौके पर सिविल सर्जन डॉ इंद्रदेव रंजन, डीवीभीडीसीओ डॉ सत्येन्द्र प्रसाद, डब्ल्यूएचओ स्टेट एनटीडी कोओर्डिनेटर डॉ राजेश पांडेय, उपाधीक्षक सदर अस्पताल, केयर डीटीएल सुमित कुमार, डीपीओ वीएल सोमनाथ ओझा, वीबीडीओ प्रीति, राजीव, सीफार से रंजीत कुमार, मीडिया कोओर्डिनेटर अमित कुमार सिंह मौजूद सहित अन्य स्वास्थ्यकर्मी मौजूद थे।

वैश्य महापंचायत द्वारा संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया गया वैश्य समाज के सात संगठनों को मिलाकर एक वैश्य महापंचायत का निर्माण किया गया।

By | बिहार, राज्य | No Comments

वैश्य महापंचायत द्वारा संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया गया

वैश्य समाज के सात संगठनों को मिलाकर एक वैश्य महापंचायत का निर्माण किया गया।


सनोवर खान ब्यूरो रिपोर्ट पटना

पटना:वैश्य महापंचायत के प्रदेश संयोजक कमल नोपानी एवं संगठन के पदाधिकारी डॉ जगन्नाथ प्रसाद गुप्ता ,इंजीनियर सुंदर साहू, पीके चौधरी ,दीपक कुमार अग्रवाल ,दिलीप गुप्ता तथा विणा मानवी द्वारा पटना में आयोजित संयुक्त संवाददाता सम्मेलन किया गया। वैश्य समाज के सात संगठनों को मिलाकर एक वैश्य महापंचायत का निर्माण किया गया। जिसके सातों अध्यक्ष एक मंच पर आकर घोषणा कर चुके हैं कि हम सब एक हैं वैश्य महापंचायत के प्रदेश संयोजक कमल नोपानी ने कहा है कि बिहार में वैश्य एबं व्यवसाई समाज ने सभी राजनीतिक गतिविधियों में अपनी अहम भूमिका प्रारंभिक काल से ही निभाई है। व्यवसाय गतिविधियों के अलावा सामाजिक आध्यात्मिक बाढ़ सुखाड़ एवं करो ना काल में अन्य गतिविधियों में इसकी अहम भागीदारी रही है डॉ जगन्नाथ प्रसाद गुप्ता जी ने कहा कि बिहार में हमारी आबादी 22% से अधिक है लेकिन वर्तमान विधानसभा में वैश्य समाज के विधायकों की संख्या 16 है। इंजीनियर सुंदर साहू ने बताया कि इन्हें विषय वस्तु को लेकर महापंचायत में इस बार बिहार विधानसभा चुनाव के संदर्भ में कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं पीके चौधरी ने कहा कि हम लोगों ने विभिन्न राजनीतिक दलों से अनुरोध किया है कि इस बार भी इन क्षेत्रों से वैश्य समाज को उम्मीदवार को ही टिकट दे उनसे इन प्रत्याशी की जीत के लिए वैश्य महापंचायत की सक्रिय भागीदारी निभाएगा। दीपक कुमार ने कहा कि इन क्षेत्रों में से कोई भी दल यदि समाज को टिकट नहीं देगा तो वैश्य महापंचायत वहां से अपना प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतारे गा। दिलीप गुप्ता ने कहा कि हमारा संगठन चाहता है कि राज्य के प्रत्येक जिलों से कम से कम एक शहरी क्षेत्र में व्यक्ति को टिकट दिया जाए विणा मालवी ने कहा कि अगर महिलाओं को राजनीति में भागीदारी सुनिश्चित करेगी तो मैं महिलाओं को आगे लाने में अहम भूमिका निभाओगी सम्मेलन में पदाधिकारी मनोज गुप्ता, शिव कुमार गुप्ता, मधुमेह चौधरी उर्फ अंटू जी, अनिल कुमार साहू, अवधेश भगत, राजू प्रसाद राजेश, प्रिंस राजू, इंजीनियर श्याम बिहारी प्रसाद उर्फ मुन्ना गुप्ता ,अजय कुमार गुप्ता, कृष्ण कुमार आजाद, सतीश गुप्ता ,आलोक कुमार, पोद्दार, दिलीप कुमार गुप्ता ,सौरभ भगत ,सतीश कुमार चौरसिया राज गुप्ता ,धर्मेंद्र शाह गोविंद बंसल, अशोक चौधरी ,सौरव कुमार सिंह एवं विभिन्न जिलों के संगठन पदाधिकारी उपस्थित थे

पटना:Covid 19 आगामी बिहार विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर निर्वाचन आयोग द्वारा प्रदत्त सुरक्षा मानक संबंधी दिशानिर्देश का शत प्रतिशत अनुपालन करने को लेकर निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी श्री कुमार रवि ने सभी निर्वाची पदाधिकारी को दिया आदेश।

By | बिहार, राज्य | No Comments

पटना:Covid 19 आगामी बिहार विधानसभा चुनाव 2020
को लेकर निर्वाचन आयोग द्वारा प्रदत्त सुरक्षा मानक संबंधी दिशानिर्देश का शत प्रतिशत अनुपालन करने को लेकर निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी श्री कुमार रवि ने सभी निर्वाची पदाधिकारी को दिया आदेश।

पटना:Covid 19 आगामी बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में सहज ,सुगम एवं सुरक्षित मतदान सुनिश्चित कराने हेतु जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी श्री कुमार रवि ने कोविड-19 के इस दौर में निर्वाचन आयोग द्वारा प्रदत्त सुरक्षा मानक संबंधी दिशानिर्देश का शत प्रतिशत अनुपालन कराने का निर्देश सभी निर्वाची पदाधिकारी को दिया है।

इस संबंध में निर्वाचन प्रक्रिया के क्रम में प्रशिक्षण, नामांकन, ईवीएम वीवीपैट एवं सामग्री का वितरण,बज्रगृह आदि प्रत्येक स्तर पर कोविड-19 संबंधी सुरक्षा मानक के रूप में आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं-

*नामांकन प्रक्रिया*

ऑनलाइन पद्धति से नामांकन हेतु अतिरिक्त विकल्प के रूप में निम्नलिखित सुविधाएं उपलब्ध कराना-

नामांकन प्रारूप जिला निर्वाचन पदाधिकारी के वेबसाइट पर उपलब्ध कराना ऐसे अभ्यर्थी जो ऑनलाइन पद्धति से नामांकन करना चाहते हैं वह वेबसाइट में नामांकन पत्र की प्रविष्टि कर सकते हैं एवं उसका प्रिंट निकाल कर प्रारूप एक में निर्वाची पदाधिकारी द्वारा निर्गत सूचना में अंकित स्थान पर नामांकन दाखिल कर सकते हैं।

इसी प्रकार शपथ पत्र भी जिला निर्वाचन पदाधिकारी के वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन पद्धति से प्रविष्टि कराया जाना इसके प्रिंटआउट को नोटराइजेशन के पश्चात निर्वाची पदाधिकारी के समक्ष दाखिल किया जा सकता है।

ऑनलाइन पद्धति से जमानत राशि को निर्धारित पोर्टल पर जमा कर सकते हैं अभ्यर्थी चाहे तो नगद रूप से जमानत राशि जमा करने हेतु ट्रेजरी चालान के माध्यम से भी जमानत राशि जमा कर सकते हैं।

अभ्यर्थी स्वयं अपना या किसी निर्वाचक के प्रमाणीकरण हेतु भी ऑनलाइन नामांकन पद्धति का उपयोग कर सकते हैं।

नामांकन दाखिल करते समय अभ्यर्थी सहित दो व्यक्ति ही उपस्थित हो सकते हैं।

नामांकन के अवसर पर अधिकतम दो वाहनों की ही अनुमति होगी।

नामांकन संवीक्षा एवं प्रतीक आवंटन के अवसर पर सामाजिक दूरी के अनुपालन हेतु निर्वाची पदाधिकारी के कक्ष में पर्याप्त स्थान उपलब्ध हो।

निर्वाची पदाधिकारी संभावित अभ्यर्थियों के लिए अग्रिम रूप से समय का निर्धारण कर सकते हैं।

निर्वाचित पदाधिकारी के कार्यालय के पास अभ्यर्थी एवं उनके प्रस्तावकों के प्रतीक्षारत होने के लिए बड़े हॉल की व्यवस्था की जाए।

आरओ के कक्ष में सामाजिक दूरी का पालन आवश्यक है।

अभ्यर्थी एवं उनके प्रस्तावक के लिए मास्क पहनना अनिवार्य है।

निर्वाची पदाधिकारी के कक्ष के बाहर थर्मल स्कैनिंग, हैंड सैनिटाइजर, साबुन एवं पानी आदि की व्यवस्था किया जाना एवं इसके प्रयोग हेतु समर्पित कर्मी की प्रतिनियुक्ति करना।

*मतदान केंद्र की व्यवस्था*

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मतदान केंद्रों पर A M F(assured minimum facilities) के संबंध में विस्तृत दिशानिर्देश जारी किए गए हैं।

मतदान के 1 दिन पूर्व एवं समय-समय पर अनिवार्य रूप से सभी मतदान केंद्रों का सैनिटाइजेशन कराना सुनिश्चित करना।

सभी मतदान केंद्र के प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनर की व्यवस्था करना। मतदान कर्मी अथवा पारा मेडिकल स्टाफ अथवा आशा कार्यकर्ता के माध्यम से मतदान केंद्र के प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनिंग का कार्य किया जाना सुनिश्चित करना।


सक्षम प्राधिकार द्वारा तापमान हेतु निर्धारित मानक से अधिक तापमान पाए जाने पर वैसे निर्वाचक के तापमान की दोबारा जांच आधा घंटा के बाद किया जाना सुनिश्चित करना यदि तापमान निर्धारित मानक से अधिक पाया जाए तो उन्हें मतदान के अंतिम घंटे में आने के लिए कहना साथ ही ऐसे निर्वाचक को इस आशय का टोकन भी निर्गत किया जाना है ।टोकन निर्गत करने के पूर्व हेल्पडेस्क पर संधारित अल्फाबेटीकल राल में मतदाता का क्रमांक चिन्हित करने की व्यवस्था करना एवं टोकन में भी मतदाता क्रमांक का उल्लेख सुनिश्चित करना।

मतदान के अंतिम घंटे में ऐसे निर्वाचक को मतदान की सुविधा प्रदान किया जाना एवं कोविड-19 के मद्देनजर निर्गत निरोधात्मक उपायों का सख्ती से पालन सुनिश्चित करना।

सामाजिक दूरी को ध्यान में रखते हुए पंक्ति में खड़े होने के लिए निर्धारित स्थल में गोला बनाना।

मतदान केंद्र पर तीन पंक्ति क्रमश: पुरुष ,महिला एवं पीडब्ल्यूडी /वरिष्ठ नागरिक के लिए सुनिश्चित करना।


मतदान केंद्र के प्रवेश व निकास द्वार पर हैंड सैनिटाइजर साबुन एवं पानी की व्यवस्था सुनिश्चित करना।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा बिहार महामारी रोग कोविड-19 विनियमन 2020 के अंतर्गत निर्गत अधिसूचना के अनुसार एक व्यक्ति को मास्क पहनना अनिवार्य है।


मतदान केंद्र पर कोविड-19 की जागरूकता के तहत सुगोचर स्थलों पर पोस्टर प्रदर्शित करना।

मतदान केंद्र पर मतदान दल एवं पोलिंग एजेंट के बैठने की व्यवस्था सामाजिक दूरी के प्रावधानों के अनुकूल हो।

मतदाता के पहचान के क्रम में मतदाता को अपना मास्क आवश्यकतानुसार हटाना होगा।

किसी भी समय मतदान पदाधिकारी के सामने मात्र एक ही मतदाता सामाजिक दूरी का पालन करते हुए उपस्थित रह सकते हैं पीठासीन पदाधिकारी कि यह व्यक्तिगत जवाबदेही है कि कोविड-19 हेतु निर्गत निरोधात्मक उपायों का अनुपालन सुनिश्चित हो।

निर्वाचको को मतदाता रजिस्टर में हस्ताक्षर एवं ईवीएम के बैलेट यूनिट के बटन दबाने के लिए हैंड ग्लव्स मतदान केंद्र के प्रवेश द्वार पर दिया जाना।

मतदान केंद्र के हेल्प डेस्क पर हैंड सैनिटाइजर संधारित किया जाना।

मतदान प्रक्रिया की समाप्ति के उपरांत निर्वाचक हैंड ग्लब्स को हैंड ग्लब्स को मतदान कक्ष के बाहर रखे गए कूड़ेदान में डालें तथा पुनः हैंड सैनिटाइजर द्वारा हाथ को सैनिटाइज करते हुए वापस जाएं।

कोविड-19 निर्वाचन जो क्वॉरेंटाइन में रखे गए हैं स्वास्थ्य कर्मियों की देखरेख में कोविड-19 से संबंधित निरोधात्मक उपायों का अनुपालन करते हुए मतदान केंद्र पर मतदान के अंतिम घंटे में मतदान करने की सुविधा उपलब्ध कराना। संबंधित मतदान केंद्रों के सेक्टर पदाधिकारी ऐसे निर्वाचको की व्यवस्था में आवश्यक समन्वय स्थापित करेंगे। सभी मतदान कर्मी द्वारा उक्त अवधि में उपलब्ध कराए गए पीपीई किट का अनिवार्य रूप में उपयोग करेंगे।

*मतदान दल हेतु किट-*

मास्क ,हैंड सैनिटाइजर ,फेस शील्ड, ग्लब्स।

*प्रशिक्षण एवं क्षमता संवर्धन*

जहां तक संभव हो निर्वाचन से जुड़े पदाधिकारियों एवं कर्मियों के दो प्रशिक्षण की व्यवस्था विकेंद्रीकृत करना साथ ही बड़े हॉल में सामाजिक दूरी का पालन करते हुए कार्यक्रम संचालित कराना।

निर्वाचन कार्य में प्रतिनियुक्त होने वाले कर्मियों के प्रशिक्षण हेतु प्राथमिकता के आधार पर ऑनलाइन पद्धति का उपयोग किया जाना।

निर्वाचन कार्य में संलग्न पदाधिकारियों एवं कर्मियों के लिए प्रशिक्षण सामग्री विषय वार पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन ,वीडियो क्लिप्स ,मूल्यांकन प्रश्न ,वेबसाइट/ पोर्टल पर अपलोड किया जाना जिससे संबंधित पदाधिकारी एवं कर्मी प्रशिक्षण सामग्री आसानी से प्राप्त कर सकें।

जिला निर्वाचन पदाधिकारी एवं निर्वाची पदाधिकारी वैसे कर्मियों के प्रतिस्थापन की व्यवस्था सुरक्षित श्रेणी के कर्मियों से करना जिसमें कोविड-19 का लक्षण परिलक्षित हो।

प्रशिक्षण छोटे-छोटे समूह में दिए जाने की व्यवस्था करना

प्रशिक्षणार्थियों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य करना।

थर्मल स्कैनिंग हैंड सेनीटाइजर साबुन एवं पानी आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करना एवं इसके प्रयोग हेतु समर्पित कर्मी की प्रतिनियुक्ति करना शामिल है।

प्रशिक्षण स्थल को प्रतिदिन प्रशिक्षण प्रारंभ होने से पूर्व एवं प्रशिक्षण समाप्त होने के उपरांत सैनिटाइज कराना सुनिश्चित करना।

कोविड-19 से संबंधित तक सरकार द्वारा निर्गत मार्गदर्शिका का अनुपालन तथा इससे संबंधित पोस्टर बैनर आदि का प्रशिक्षण स्थल पर प्रदर्शन सुनिश्चित कराना।

*बज्रगृह की व्यवस्था*

मतदान समाप्ति के उपरांत एवं ईवीएम वीवीपट आदि सुरक्षित रखने के पूर्व बज्रगृह को सैनिटाइज करवाना सुनिश्चित करना।

प्रत्येक गतिविधि में सामाजिक दूरी एवं सुरक्षा संबंधी मानक का पालन किया जाना।

*मतों की गणना*

मतगणना हॉल के अंतर्गत अधिकतम 7 मतगणना टेबल की अनुमति है। इस प्रकार प्रत्येक विधानसभा के लिए तीन-चार हॉल की आवश्यकता है जिसके लिए अतिरिक्त सहायक निर्वाची पदाधिकारी की नियुक्ति किया जाना।

मतगणना टेबल पर सीयू एवं वीवीपैट के बक्से को लाने के पूर्व सैनिटाइज किया जाना।

मतगणना केंद्र को मतगणना शुरू होने के पूर्व मतगणना के दौरान एवं मतगणना के पश्चात विसंक्रमित किया जाना।

डाक मतपत्रों की गणना हेतु अतिरिक्त सहायक निर्वाची पदाधिकारी की आवश्यकता है। इसके लिए निर्वाची पदाधिकारी/ सहायक निर्वाची पदाधिकारी की देखरेख में पृथक हॉल की व्यवस्था किया जाना।

शिक्षा प्रणाली को बदलने जा रही है नई शिक्षा नीति- प्रमोद कुमार, मंत्री, बिहार सरकार

By | बिहार, राज्य | No Comments

शिक्षा प्रणाली को बदलने जा रही है नई शिक्षा नीति- प्रमोद कुमार, मंत्री, बिहार सरकार

दिनांक-24.9.2020


बिहार सरकार के कला, संस्कृति और युवा मामलों के मंत्री प्रमोद कुमार ने कहा है कि नई शिक्षा नीति हमारी शिक्षा प्रणाली को बदलने जा रही है। आज वह बिहार और झारखंड निदेशालय एनसीसी के तत्वावधान में एनसीसी पटना समूह द्वारा 21 सितंबर 2020 से 26 सितंबर 2020 तक आयोजित किए जा रहे “ऑनलाइन एक भारत श्रेष्ठ भारत शिविर” को संबोधित कर रहे थे। नई शिक्षा नीति पर कैडेटों को शिक्षित करते हुए, उन्होंने एक भारतश्रेष्ठ भारत और आत्मनिर्भर भारत के महत्व पर भी जोर दिया। उनके संबोधन से पहले एनसीसी कैडेटों ने उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया । माननीय मंत्री ने एनसीसी पटना समूह के 20 कैडेटों को उनकी उपलब्धियों के लिए सम्मानित भी किया। साथ हीं उन्होंने एयर और नेवल एनसीसी कैडेट्स द्वारा प्रदर्शित एयरो और जहाज के मॉडल भी देखे। दोनों निदेशालयों के कुल 08 एनसीसी अधिकारी और 242 कैडेट कार्यक्रम में भाग ले रहे हैं।

ब्रिगेडियर प्रवीण कुमार, ग्रुप कमांडर, एनसीसी पटना ग्रुप ने अपने स्वागत भाषण में एक भारत श्रेष्ठ भारत के महत्व को रेखांकित किया। उन्होंने एनसीसी निदेशालय बिहार और झारखंड की उपलब्धियों और आगे की राह का भी उल्लेख किया। मेजर जनरल एम इंद्रबालन, अतिरिक्त महानिदेशक, बिहार और झारखंड एनसीसी ने भी एक भारत श्रेष्ठ भारत, आत्मनिर्भर भारत और नई शिक्षा नीति 2020 के मुख्य पहलुओं पर कैडेटों को संबोधित किया। यह एक संवादात्मक सत्र था, जहां कैडेटों ने भी चर्चा में भाग लिया। माननीय के संबोधन के दौरान कर्नल एसबी सिंह, कर्नल किशोर कुमार, कर्नल अनिल ठाकुर, कर्नल फरहाद अहमद, कर्नल एस बत्रा, लेफ्टिनेंट कर्नल ए हक, डॉ अनीता, तीसरे अधिकारी राकेश कुमार, तीसरे अधिकारी अशोक कुमार और 50 कैडेट मौजूद थे।

Memorandum submitted to SDM by office bearers of Indian Journalist Association ITWA unit for Press Bhawan

By | उत्तर प्रेदश, राज्य | No Comments

Memorandum submitted to SDM by office bearers of Indian Journalist Association ITWA unit for Press Bhawan

The meeting was organized in Itwa in the presence of State Spokesperson Hasim Rizvi, headed by the Indian Journalist Association, Itwa Tehsil President Dr. Jung Bahadur Chaudhary.

Itwa, Siddharthnagar.

Officials of the Indian Journalist Association submitted a memorandum to SDM Itwa Utkarsh Srivastava regarding the allotment of land for the Press Building for journalists at Tehsil Headquarters.
A meeting of Itwa town journalists was presided over by Dr. Jung Bahadur Chaudhary, ITWA President of the Indian Journalist Association, during which one of the town’s senior journalists, while holding a minute’s silence. Tributes were paid to Anil Srivastava. Subsequently, after deliberating on the points, a memorandum was submitted to the Sub-Divisional Officer for allotment of land for the construction of the press building.
In his address, State Spokesperson Hashim Rizvi said that no arrangement has been made by the government so far for the sitting of journalists. There is no building to organize a meeting for journalists due to which the officials are facing a lot of problems. With the construction of the building, it will be easier to organize meetings and seminars and conferences etc. He urged the SDM to make arrangements for providing land for press buildings anywhere in Itwa town at the earliest.
During this period, State Journalist Hashim Rizvi, Tehsil President Dr. Jung Bahadur Chaudhary, Tehsil Patron Dr. Nisar Ahmad , Nandlal Soni, Pramod Bhatt, Riyaz Ahmed, Niyamatullah, Govindlal Maurya,. Naseem Ahmed, RK Sharma etc. were present during this period. .

پریس بھون کے لئے انڈین جرنلسٹس ایسوسی ایشن اتوا یونٹ کے عہدیداروں کے ذریعہ ایس ڈی ایم کو میمورنڈم جمع کرایا گیا

By | उत्तर प्रेदश, राज्य | No Comments

پریس بھون کے لئے انڈین جرنلسٹس ایسوسی ایشن اتوا یونٹ کے عہدیداروں کے ذریعہ ایس ڈی ایم کو میمورنڈم جمع کرایا گیا

یہ جلسہ اتوار میں انڈین جرنلسٹس ایسوسی ایشن تحصیل کے صدر ڈاکٹر جنگ بہادر چوہدری کی سربراہی میں ریاستی ترجمان ہاشم رضوی کی موجودگی میں منعقد کیا گیا تھا۔

اتوا، سدھارتھ نگر۔

انڈین جرنلسٹس جرلسٹس ایسوسی ایشن کے عہدیداروں نے تحصیل ہیڈ کوارٹرز میں صحافیوں کے لئے پریس بلڈنگ کے لئے اراضی الاٹمنٹ سے متعلق ایس ڈی ایم اتوا اتکرش سریواستو کو ایک یادداشت پیش کی۔
اتوا شہر کے صحافیوں کا ایک اجلاس انڈین جرنلسٹس ایسوسی ایشن کے صدر ڈاکٹر جنگ بہادر چودھری کی زیرصدارت ہوا ، اس دوران بستی کے سینئر صحافی نے ایک منٹ کی خاموشی اختیار کی۔ انیل سریواستو کو خراج تحسین پیش کیا گیا۔ اس کے بعد ، نکات پر غور کرنے کے بعد ، سب ڈویژنل آفیسر کو پریس عمارت کی تعمیر کے لئے اراضی الاٹمنٹ کے لئے ایک میمورنڈم پیش کیا گیا۔
اپنے خطاب میں ریاستی ترجمان ہاشم رضوی نے کہا کہ حکومت کی جانب سے اب تک صحافیوں کے بیٹھنے کا کوئی بندوبست نہیں کیا گیا ، صحافیوں کے لئے اجلاس منعقد کرنے کی کوئی عمارت نہیں ہے جس کی وجہ سے عہدیداروں کو کافی پریشانی کا سامنا کرنا پڑ رہا ہے۔ عمارت کی تعمیر سے ، جلسوں اور سیمینارز اور کانفرنسوں وغیرہ کے انعقاد میں آسانی ہوگی۔ انہوں نے ایس ڈی ایم پر زور دیا کہ جلد سے جلد اٹوا شہر میں کہیں بھی پریس عمارتوں کے لئے اراضی کی فراہمی کے انتظامات کیے جائیں۔
اس عرصے کے دوران ، ریاستی صحافی ہاشم رضوی ، تحصیل صدر ڈاکٹر جنگ بہادر چودھری ، تحصیل سرپرستی ڈاکٹر نثار احمد ، نندلال سونی ، پرمود بھٹ ، ریاض احمد ، نیامت اللہ ، گووند لال موریہ ، نسیم احمد ، آر کے شرما وغیرہ موجود تھے۔ .

प्रेस भवन के लिए इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन इटवा इकाई के पदाधिकारियों ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

By | उत्तर प्रेदश, राज्य | No Comments

प्रेस भवन के लिए इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन इटवा इकाई के पदाधिकारियों ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन इटवा तहसील अध्यक्ष डा. जंगबहादुर चौधरी की अध्यक्षता में प्रदेश प्रवक्ता हासिम रिजवी की मौजूदगी में इटवा में बैठक का हुआ आयोजन।

इटवा, सिद्धार्थनगर।

तहसील मुख्यालय पर पत्रकारों के लिए प्रेस भवन हेतु जमीन आवंटन को लेकर इंडियन जनर्लिस्ट एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने एसडीएम इटवा उत्कर्ष श्रीवास्तव को ज्ञापन सौंपाl
इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के इटवा अध्यक्ष डॉ.जंगबहादुर चौधरी की अध्यक्षता इटवा कस्बे पत्रकारों की एक बैठक की गई ।इस दौरान एक मिनट का मौन धारण कर बस्ती के वरिष्ठ पत्रकार स्व . अनिल श्रीवास्तव को श्रधांजलि दी गयी । तत्पश्चात के बिन्दुओ पर बिचार विमर्श के बाद में उपजिलाधिकारी को प्रेस भवन निर्माण के लिए जमीन आवंटन के लिए ज्ञापन सौंपा गया।
अपने संबोधन में प्रदेश प्रवक्ता हाशिम रिज़्वी के कहा कि पत्रकारों के बैठने के लिए अभी तक सरकार द्वारा कोई व्यवस्था नहीं की गई हैl पत्रकारों को बैठक गोष्ठी करने के लिए कोई भवन नही है जिसकी वजह से पदाधिकारियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। भवन हो जाने से बैठक और गोष्टी और सम्मेलन आदि कार्यक्रमों का आयोजन करने में काफी आसानी हो जाएगी। उन्होंने एसडीएम से आग्रह किया कि इटवा कस्बे में कही भी प्रेस भवन के लिए जमीन उपलब्ध कराने की व्यवस्था अति शीघ्र की जाए ।
इस दौरान इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के प्रदेश प्रवक्ता हाशिम रिज्वी, तहसील अध्यक्ष डा. जंगबहादुर चौधरी , तहसील संरक्षण डा. निसार अहमद ,नंदलाल सोनी ,प्रमोद भट्ठ ,रियाज अहमद ,नियमतुल्लाह, गोविन्दलाल मौर्य ,.नसीम अहमद ,आर के शर्मा आदि लोग मौजूद रहे।