Breaking News

उत्तर प्रेदश:- योगी जी की विकास की राहें अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है !
उत्तर प्रेदश:- रंगरलियां मना रहे दो जोड़ो की हुई जमकर पिटाई
देश:- प्रधानमंत्री ने कहा कि सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण विधेयक एक ऐतिहासिक कदम है जो गरीबों के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है
देश:- स्वच्छ भारत मिशन खुले में शौच से मुक्त भारत के लक्ष्य प्राप्ति की ओर
देश:- मेघालय में पहली ‘स्वदेश दर्शन’ परियोजना का उद्घाटन
देश:- रेल संरक्षा में भारत-जापान सहयोग के लिए रेलमंत्रालय ने चर्चा रिकॉर्ड पर हस्‍ताक्षर किये |

शिक्षा प्रणाली को बदलने जा रही है नई शिक्षा नीति- प्रमोद कुमार, मंत्री, बिहार सरकार

दिनांक-24.9.2020


बिहार सरकार के कला, संस्कृति और युवा मामलों के मंत्री प्रमोद कुमार ने कहा है कि नई शिक्षा नीति हमारी शिक्षा प्रणाली को बदलने जा रही है। आज वह बिहार और झारखंड निदेशालय एनसीसी के तत्वावधान में एनसीसी पटना समूह द्वारा 21 सितंबर 2020 से 26 सितंबर 2020 तक आयोजित किए जा रहे “ऑनलाइन एक भारत श्रेष्ठ भारत शिविर” को संबोधित कर रहे थे। नई शिक्षा नीति पर कैडेटों को शिक्षित करते हुए, उन्होंने एक भारतश्रेष्ठ भारत और आत्मनिर्भर भारत के महत्व पर भी जोर दिया। उनके संबोधन से पहले एनसीसी कैडेटों ने उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया । माननीय मंत्री ने एनसीसी पटना समूह के 20 कैडेटों को उनकी उपलब्धियों के लिए सम्मानित भी किया। साथ हीं उन्होंने एयर और नेवल एनसीसी कैडेट्स द्वारा प्रदर्शित एयरो और जहाज के मॉडल भी देखे। दोनों निदेशालयों के कुल 08 एनसीसी अधिकारी और 242 कैडेट कार्यक्रम में भाग ले रहे हैं।

ब्रिगेडियर प्रवीण कुमार, ग्रुप कमांडर, एनसीसी पटना ग्रुप ने अपने स्वागत भाषण में एक भारत श्रेष्ठ भारत के महत्व को रेखांकित किया। उन्होंने एनसीसी निदेशालय बिहार और झारखंड की उपलब्धियों और आगे की राह का भी उल्लेख किया। मेजर जनरल एम इंद्रबालन, अतिरिक्त महानिदेशक, बिहार और झारखंड एनसीसी ने भी एक भारत श्रेष्ठ भारत, आत्मनिर्भर भारत और नई शिक्षा नीति 2020 के मुख्य पहलुओं पर कैडेटों को संबोधित किया। यह एक संवादात्मक सत्र था, जहां कैडेटों ने भी चर्चा में भाग लिया। माननीय के संबोधन के दौरान कर्नल एसबी सिंह, कर्नल किशोर कुमार, कर्नल अनिल ठाकुर, कर्नल फरहाद अहमद, कर्नल एस बत्रा, लेफ्टिनेंट कर्नल ए हक, डॉ अनीता, तीसरे अधिकारी राकेश कुमार, तीसरे अधिकारी अशोक कुमार और 50 कैडेट मौजूद थे।

Leave a Reply