Breaking News

उत्तर प्रेदश:- योगी जी की विकास की राहें अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है !
उत्तर प्रेदश:- रंगरलियां मना रहे दो जोड़ो की हुई जमकर पिटाई
देश:- प्रधानमंत्री ने कहा कि सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण विधेयक एक ऐतिहासिक कदम है जो गरीबों के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है
देश:- स्वच्छ भारत मिशन खुले में शौच से मुक्त भारत के लक्ष्य प्राप्ति की ओर
देश:- मेघालय में पहली ‘स्वदेश दर्शन’ परियोजना का उद्घाटन
देश:- रेल संरक्षा में भारत-जापान सहयोग के लिए रेलमंत्रालय ने चर्चा रिकॉर्ड पर हस्‍ताक्षर किये |
अम्बेडकरनगर

बेला परसा में प्रधान द्वारा खड़ंजा निर्माण में पीला ईटा और घटिया सामग्री के प्रयोग से ग्रामवासियों में रोष

By November 18, 2019 No Comments

अम्बेडकरनगर : बसखारी ब्लाक अंतर्गत बेला परसा ग्राम सभा के ग्राम प्रधान द्वारा कराए जा रहे खडंजा निर्माण में किया जा रहा है घोर अनियमितता।
खड़ंजा निर्माण में पीला ईटा के प्रयोग और बालू से किए जा रहे हैं निर्माण को लेकर ग्राम वासियों में काफी आक्रोश व्याप्त है।
सूत्र द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार बेला परसा ग्राम सभा का दबंग प्रधान जोकि ग्राम सभा में खडंजख का निर्माण करवा रहा है और उस निर्माण कार्य में अपनी दबंगई के बल पर मनमानी करते हुए घटिया किस्म के पीला ईटा का प्रयोग किया जा रहा है और निर्माण में प्रयुक्त मसाला के रूप में बालू से जुड़ाई करने का काम किया जा रहा है।
जिसे देखकर ग्राम वासियों में काफी चर्चा का विषय बना हुआ है कि ग्राम प्रधान द्वारा घटिया निर्माण कराकर सरकारी बजट को चूना लगाया जा रहा है ।
ऐसे खड़ंजा के निर्माण से क्या फायदा जो मात्र दिखावा हो।
निर्माण किए जा रहे इस खड़ंजा की हालत अभी से इतनी नाजुक है तो इसका सुचारु रुप से चल पाना मील का पत्थर साबित होगा सबसे बड़ी बात यह है कि दबंग प्रधान होने के कारण कोई भी ग्रामवासी खुलकर इसका विरोध नहीं कर सकता ।
क्योंकि सूत्र बताते हैं कि ग्राम प्रधान के ऊपर बसखारी ब्लॉक के जिम्मेदार अधिकारी मिलकर पैसे का बंदरबांट की योजना के तहत ऐसे घटिया निर्माण करवा रहे हैं।
जिन पर लगाम लगाने वाला कोई नजर नहीं आ रहा है और इनका मनमाना घर जाना तरीके से काम चल रहा है।
वही जब इस संदर्भ में ग्राम प्रधान से जानकारी ली गई तो उसने कहा कि हां घटिया ईटे का प्रयोग किया जा रहा है और 5-1 का मसाला लगाया जा रहा है। बजट का नहीं पता कितने का बजट है।
बस काम हो रहा है प्रधान की बेतुकी बातें ही बता रही हैं कि दबंगई किस कदर सर चढ़कर बोल रही है।
क्योंकि ब्लॉक के अधिकारियों का संरक्षण इस पर पूरी तरह से रहता है और जब इस निर्माण के बारे में वीडियो बसखारी से जानकारी प्राप्त की गई तो उन्होंने एक सिरे से खारिज करते हुए कहा कि मेरे जानकारी में ऐसा नहीं है कि कोई निर्माण कार्य चल रहा है।
किंतु निर्माण कार्य में अच्छे ईंटों का प्रयोग किया जाना चाहिए और मसाले का अनुपात क्या होना चाहिए।
कहा कि सरकारी रेट के अनुसार सही रूप से काम कर पाना मुश्किल है लेकिन निर्माण कार्य में सही इट ए का प्रयोग किया जाना चाहिए।
ग्राम प्रधान की जुबानी और वीडियो की बातों से आसानी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि इन लोगों की मनमानी कैसे सर चढ़कर बोल रही है।
एक तरफ तो दबंग ग्राम प्रधान की दबंगई के कारण ग्रामवासी खुलकर विरोध नहीं कर सकते तो वहीं दूसरी तरफ ब्लॉक के जिम्मेदारान अधिकारियों का संरक्षण मिलने से दबंग प्रधान का मनोबल और भी ऊंचा बना हुआ है।

Leave a Reply