Breaking News

उत्तर प्रेदश:- योगी जी की विकास की राहें अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है !
उत्तर प्रेदश:- रंगरलियां मना रहे दो जोड़ो की हुई जमकर पिटाई
देश:- प्रधानमंत्री ने कहा कि सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण विधेयक एक ऐतिहासिक कदम है जो गरीबों के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है
देश:- स्वच्छ भारत मिशन खुले में शौच से मुक्त भारत के लक्ष्य प्राप्ति की ओर
देश:- मेघालय में पहली ‘स्वदेश दर्शन’ परियोजना का उद्घाटन
देश:- रेल संरक्षा में भारत-जापान सहयोग के लिए रेलमंत्रालय ने चर्चा रिकॉर्ड पर हस्‍ताक्षर किये |
अपना जिलाबिहारराज्य

इमामों को सरकार सुरक्षा प्रदान करे: कारी जावेद अख्तर फैजी*

By September 8, 2019 No Comments

*इमामों को सरकार सुरक्षा प्रदान करे: कारी जावेद अख्तर फैजी*
रिपोर्ट: नसीम रब्बानी के साथ सनोवर खान
वैशाली : (तंजीम इमाम मस्जिद ऑल बिहार) के जानिब से गौसपुर चकमोजाहीद, महुआ में इमामों की एक बैठक सम्पन्न हुई। जिसमें शामिल इमामों कलावे बहुत सारे लोग उपस्थिति थे । इस मौके पर कारी जावेद अख्तर फैजी ने कहा कि आज पुरे देश में नफ़रत फैलाने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है। जिसको सरकार रोकने में असफल साबित हो रही है। आए दिन किसी न किसी की हत्या हो रही है ,अभी दिल्ली में एक मुस्लिम धर्म गुरु मौलाना को एक भिड़ के द्वारा पिट पिट कर हत्या कर दी गई। जिसका सोशल मीडिया पर विडीयो वायरल हुआ लेकिन प्रशासन के द्वारा सही से अबतक कुछ भी नही किया गया। जिसके लिए अभी कुछ दिन पहले समस्तीपुर ज़िले में एक मस्जिद के इमाम को मस्जिद में घुसकर मारा गया, जो इमाम अभी पीएमसीएच पटना में इलाजरत है। इस तरह से जहां अल्पसंख्यकों को निशाना बनाया जा रहा है, वही मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना जो पूरी दुनिया को, पैगंबर हजरत मोहम्मद स.अ.व. का संदेश अमन और शांति भाईचारे को पूरी दुनिया तक पहुंचाते हैं । आज वही सुरक्षित नहीं है, तो आम आदमी का क्या हाल होगा, वही संगठन के अध्यक्ष मकबूल शहबाजपूरी‌ नें कहा की इमामों को दिल्ली, बंगाल, आंध्र प्रदेश में सरकार वेतन दे रही है।उसी तर्ज पर बिहार सरकार को भी चाहिए की इमामों को सरकारी वेतन दिया जाए। साथ ही मुफ्ती अली रजा मिस्बाही महुआ ने कहा कि समस्तीपुर ज़िले में जो ईमाम के साथ हादसा हुआ है, उस पर फौरन थाने में एफ आई आर दर्ज कराने की जरूरत है। तथा दोषियों पर सख्त कार्रवाई करने की जरूरत है। ताकि लोगों के बीच अमन शांति बनी रहे। मुख्य रूप से इस कार्यक्रम में मौलाना उस्मान गनी, मौलाना अब्दुल वाहिद ,कारी गुलाम मोहिउद्दीन हाफिज मुमताज, हाफिज अब्दुल सलाम हनफी, हाजी सलामुद्दीन, एजाज कुरैशी, मुफ्ती कौसर मिस्बाही,कारी अब्दुल गफ्फार के साथ दर्जनों लोगों ने शिरकत किया। आखिर में कारी जावेद अख्तर फैजी नें आने वाले सभी लोगों को धन्यवाद करके कार्यक्रम को समाप्त किया गया।

Leave a Reply