Breaking News

उत्तर प्रेदश:- योगी जी की विकास की राहें अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है !
उत्तर प्रेदश:- रंगरलियां मना रहे दो जोड़ो की हुई जमकर पिटाई
देश:- प्रधानमंत्री ने कहा कि सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण विधेयक एक ऐतिहासिक कदम है जो गरीबों के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है
देश:- स्वच्छ भारत मिशन खुले में शौच से मुक्त भारत के लक्ष्य प्राप्ति की ओर
देश:- मेघालय में पहली ‘स्वदेश दर्शन’ परियोजना का उद्घाटन
देश:- रेल संरक्षा में भारत-जापान सहयोग के लिए रेलमंत्रालय ने चर्चा रिकॉर्ड पर हस्‍ताक्षर किये |
उत्तर प्रेदशराज्य

इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने मनाया जश्न ए आजादी, किया झंडारोहण। कानपुर नगर, उत्तर प्रदेश।

By August 16, 2020 No Comments

इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने मनाया जश्न ए आजादी, किया झंडारोहण।


कानपुर नगर, उत्तर प्रदेश।

दुनिया में पहली कोरोना महामारी भी आजादी के मतवालों को स्वतंत्रता दिवस की खुशियां मनाने से नहीं रोक सकी।
इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने नगर कार्यालय तलाक महल रहमानी मार्केट चौराहे पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए संरक्षक एजाज सिद्दीकी,अश्वनी दीक्षित व जिला अध्यक्ष मुकीम अहमद कुरैशी ने शारीरिक दूरी बनाकर झंडारोहण किया,साथ ही लड्डू बांटकर 74 वें जश्न ए आजादी की 73 वीं सालगिरह मनाई।
झंडारोहण के मौके पर संरक्षक एजाज सिद्दीकी व अश्वनी दीक्षित में साथी पत्रकारों का हौसला बढ़ाते हुए कहा।पत्रकारिता बहादुरी का काम है देश की आजादी में पत्रकारों ने हीं अपनी कलम के दम पर अंग्रेजों के छक्के छुड़ा दिए थे।जिसकी वजह से आज हम लोग आजाद भारत में सांस ले रहे हैं।उन्होंने आज की पत्रकारिता के गिरते स्तर पर चिंता व्यक्त की और कहा अगर हमारे पूर्वज भी आज चंद्र बिकाऊ पत्रकारों जैसे होते तो शायद हम लोग आज भी अंग्रेजों के गुलाम होते हैं।
जिला अध्यक्ष मुकीम कुरैशी ने दलाल मीडिया पर तंज कसते हुए कहा।आज की पत्रकारिता ने सांप्रदायिकता का चोला ओढ़ लिया है।आज के चंद पत्रकारो ने निष्पक्ष ना होकर व्यक्ति विशेष या वर्ग विशेष के पास अपने कलम को गिरवी रख दिया है,वह निंदनीय है।उन्होंने पत्रकारों के भेष में दलालों पर कटाक्ष करते हुए कहा।जब से पत्रकारिता व्यवसायिक हुई है तब से पत्रकारिता का स्तर ज्यादा गिरा है।और पत्रकार पैसे के लोभ में अपने ईमान का सौदा कर रहा है। पैसों के लिए ही आज चंद पत्रकार झूठ को सच और सच को झूठ साबित करने पर तुले हुए हैं। उन्होंने साथी पत्रकारों से सच्चाई पर अडिग रहने को कहा। जिससे भविष्य में खतरे में पड़ती आजादी को बचाया जा सके।
एसोसिएशन के जिला महामंत्री हफीज अहमद खान ने सरकार से मांग की और कहा।पत्रकारों के भेष में अपराधी पत्रकार का चोला ओढ़े हुए हैं।सरकार को ऐसे पत्रकारों को चिन्हित कर उनकी जांच करना चाहिए,जो पत्रकारिता की आड़ में अपराध को संरक्षित कर रहे हैं।यही कारण है जो आज पत्रकारिता का स्तर दिन ब दिन गिरता जा रहा है।
झंडारोहण के मौके पर एसोसिएशन के पदाधिकारी नाजिम अली खान,अमित त्रिवेदी,कमर आलम,दुष्यंत सिंह,जीशान खान,रानू खान,जैद, हुजैफा,अमन शर्मा,अंकित मिश्रा,संदीप,नफीस आदि पत्रकार साथी मौजूद रहे।

Leave a Reply